Sunday, 8th December, 2019

चलते चलते

चुनाव नतीजों के बाद आतंकवादियों ने भी लिया ब्रेक, दिल्ली चुनाव के समय फिर से होंगे एक्टिव

25, Oct 2019 By किल बिल पांडे

नयी दिल्ली. दो राज्यों के विधानसभा चुनाव के नतीजे आते ही जहाँ महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना का पुराना ‘टॉम एंड जेरी’ का खेल शुरू हो गया है, वहीँ हरियाणा में धनतेरस की खरीददारी होती दिखाई दे रही है। चुनावी कवरेज के चक्कर में पाकिस्तान की खबरें दिखाना भूले न्यूज चैनलों को देख भारतीय दर्शकों ने भी चैन की सांस ली है।

terrorists
छुट्टी पर जाते आतंकवादी

लेकिन इन सबके बीच सरहद पार से देश की सुरक्षा से जुड़ी एक बड़ी खबर आ रही है,  इंडिया के चुनाव से ठीक पहले एक्टिव हो जाने वाले आतंकवादियों ने कुछ दिन ‘ब्रेक’ लेने का एलान किया है, इस वादे के साथ जैसे जी दिल्ली विधानसभा का चुनाव शुरू होगा हम फिर से एक्टिव हो जाएँगे।

फ़ेकिंग न्यूज़ को भेजे गये ई-मेल में ‘मसखर-ए-तौबा’ नामक आतंकी संगठन ने अपने फ्यूचर प्लान की जानकारी दी है। मेल के साथ भेजे गए ऑडियो मैसेज में संगठन के सरगना ने साफ कहा है कि, “देखो भई! हमें तुम्हारे चुनावों में कोई इंटरेस्ट नहीं है, हर चुनाव से पहले हमें उसमे घसीटना बंद करो! इधर, टमाटर खाने के पैसे नहीं है और तुम असलाह बारूद की बातें करते हो, इंसानियत के नाते, थोड़ा तो रहम खाओ हम पर!” -कहते हुए सरगना का गला भर आया।

थोड़ी देर बाद फिर से करैक्टर में घुसते हुए ‘सरगना’ ने भारत को चेतावनी देते हुए कहा कि, “देखो, हम लोग ऑफिशियली दिवाली ब्रेक पर जा रहे हैं, हमारे नाम से कोई रिपोर्ट बनाने की कोशिश भी मत करना, वरना हम सब लोग दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले सच में एक्टिव होकर एलओसी छू कर आ जाएँगे!

अगर ऐसा हुआ तो हमारी मौत के ज़िम्मेदार सिर्फ और सिर्फ भारत के न्यूज चैनल होंगे!” -सरगना ने आवाज़ भारी करने की नाकाम कोशिश करते हुए कहा।

इस खबर के बाहर आते ही नोएडा फिल्म सिटी में हड़कंप मच गया है। अभी इलाके की जमीन की खुदाई का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि आतंकियों ने खुद अपने आतंकित होने की बात सार्वजानिक कर दी। ज्यादातर पत्रकारों को डर है कि अब वह आतंकवादियों के नाम से कोई भी फर्ज़ी खबर नहीं चला पाएँगे, जिससे उनकी नौकरी जाने का भी खतरा है।



ऐसी अन्य ख़बरें