Tuesday, 16th July, 2019

चलते चलते

शांति की भाषा बोल रहे हैं किम जोंग, परमाणु युद्ध की आस में बैठे युवक ने कहा- 'ये अब हुआ है पागल!'

26, Feb 2018 By Ritesh Sinha

प्योंगयांग/बाराबंकी. जो लोग अपनी ज़िंदगी में एक बार परमाणु युद्ध देखना चाहते थे, उन्हें तगड़ा झटका लगा है। उत्तर कोरिया के सनकी तानाशाह किम जोंग उन, जो आए दिन अमेरिका को परमाणु युद्ध की धमकी दिया करते थे, वो आजकल ‘युद्ध’ की नहीं ‘शांति’ की भाषा बोलने लगे हैं। उन के तेवर में आए इस बदलाव से उन लोगों के इरादों पर पानी फिर गया है, जो एक बार परमाणु युद्ध देख लेना चाहते थे।

Kim Jong Un
ट्रंप के लिए गुलाब लेकर खड़े किम जोंग उन

बाराबंकी के रहने वाले उमेश यादव को किम जोंग उन पर पूरा भरोसा था कि वो उनका सपना पूरा कर देंगे, लेकिन जब से यह ख़बर आई है, उमेश के कंधे झुक गए हैं। उसने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि “पहले मेरे दोस्त कहते थे कि किम जोंग उन पागल है, सनकी है! लेकिन मैं नहीं मानता था! मुझे विश्वास था कि इसी बंदे की वजह से तो मुझे परमाणु बम फटते हुए देखने का मौका मिलेगा!”

“..लेकिन पागल तो वो अब हुआ है भाईसाब! क्या ज़रूरत है उसे अमेरिका के साथ प्रेम-गीत गाने की! किम जोंग उन, ट्रम्प के साथ मिलकर चाय पे चर्चा करेगा तो फिर युद्ध कौन करेगा?” -कहता हुआ वो “किम जोंग उन होश में आओ! होश में आओ!” के नारे लगाने लगा। “एक ही तो सपना है मेरा परमाणु युद्ध देखने का! लगता है वो भी पूरा नहीं होगा!” -उमेश ने गहरी साँस लेते हुए कहा।

एक्सपर्ट्स का भी मानना है कि किम जोंग उन की दिमागी हालत ठीक नहीं है, इसलिए वो ऐसी बहकी-बहकी बातें कर रहे हैं। टीवी पर आने वाले एक महान एक्सपर्ट डगलस कुमार ने बताया कि “शांति वगैरह की बात करना उसका काम नहीं है, उसे सूट भी नहीं करता! मुझे शक है कि कहीं वो एक्चुअली में तो पागल नहीं हो गया है, या उस पर किसी ने जादू-टोना तो नहीं कर दिया!”



ऐसी अन्य ख़बरें