Thursday, 27th June, 2019

चलते चलते

इमरान ने कहा- "मिशन पूरा करने से पहले पकड़े जा रहे हैं 'आतंकवादी' इसलिए हम भी हैं आतंकवाद से परेशान!"

27, Feb 2019 By Guest Patrakar

इस्लामाबाद. पुलवामा हमले के बाद आतंकवाद की समस्या से ईमरान खान बहुत दुखी और निराश हैं। उनके दुखी होने की वजह यह है कि उनके भेजे आतंकवादी अब हर रोज़ पकड़े या मारे जा रहे हैं, उन्हें अपना मिशन पूरा करने  का मौका भी नहीं मिल रहा है!’ इमरान ने यह नाराज़गी कराची में एक सभा को संबोधित करते हुए व्यक्त की।

imran khan
कुछ करना पड़ेगा!

इमरान ने कहा “पहले पाकिस्तान के आतंकवादी दुनिया भर में दहशत फैलाते थे, मर जाते थे लेकिन पाकिस्तान को बीच में नहीं लाते थे! लेकिन यह नयी खेप के आतंकी खुद तो मरते हैं, ऊपर से अपने साथ पाकिस्तान की कोई निशानी छोड़ जाते हैं, फिर जवाब हमें देना पड़ता है!”

“भारत और ‘UN’ हम पर आतंकियों को पालने का इल्ज़ाम लगा देती है! क्या कमी रह गयी है हमारे प्यार और ट्रेनिंग में? कहाँ चूक हो रही है? हम अपने हिस्से से रोटी निकाल कर उन्हें खिलाते हैं फिर भी वो ऐसी हरकत क्यों कर रहे हैं?”” -इमरान ने आगे कहा।

इस पर पाकिस्तान के आर्मी चीफ़ जावेद बाजवा ने भी ट्वीट करके खेद जताया। उन्होंने लिखा “मैं इमरान भाई की बात से सहमत हूँ, एक समय था जब ओसामा ने पूरी दुनिया में आतंक फैलाया हुआ था लेकिन किसी ने उसे पाकिस्तान के साथ जोड़कर देखा ही नहीं! वो पाकिस्तान में रहता था तब भी हमें किसी ने कुछ नहीं कहा! हमारी नयी पीढ़ी को उनसे यह कला सीखने की ज़रूरत है!”

पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान पर अंतराष्ट्रीय दबाव बढ़ता जा रहा है अब देखना यह है कि क्या पाकिस्तान इस दबाव से बाहर निकल पाटा है या नहीं?



ऐसी अन्य ख़बरें