Friday, 22nd November, 2019

चलते चलते

‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम पर मंडराया भारी बारिश का साया. तलाक़ के लिए शुरू हुई मेंढक-मेढकी की खोज

22, Sep 2019 By किल बिल पांडे

ह्यूस्टन. हमेशा फ्लाइट मोड में रहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, 22 सितंबर को अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में होने वाले ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम को संबोधित करने वाले हैं। इस कार्यक्रम को लेकर अप्रवासी भारतीयों में खासा उत्साह देखा जा रहा है, लेकिन अब इस महोत्सव पर भारी बारिश का खतरा मंडराने लगा है।

frog
यही है वो मेंढक-मेंढकी

दरअसल, टेक्सास में आये एक तूफ़ान ने भारी तबाही मचाई है, वहाँ के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने इमरजेंसी की घोषणा भी कर डाली है, अब गवर्नर ‘ग्रेग’ ने आरोप लगाया है कि इस प्राकृतिक आपदा के लिए राज्य में रहने वाले भारतीय समुदाय जिम्मेदार हैं।

फ़ेकिंग न्यूज़ से की गयी एक्सक्लूसिव बातचीत में ग्रेग ने कहा कि, ”हमें पूरा शक है कि ये सब इंडियंस की वजह से हो रहा है, मैंने अपने इंडियन सेक्रेटरी जिग्नेश पटेल को पिछले हफ्ते कहा था कि बहुत गर्मी पड़ रही है, अगर बारिश हो जाए तो मज़ा आ जाए! उसने मुझे बोला था कि उसके पास बारिश लाने का बहुत धाँसू आईडिया है! बस, मेंढक-मेढकी का जुगाड़ करना होगा!

उस वक्त तो उसकी बात मेरे सर के ऊपर से निकल गयी, फिर भी मैंने मेंढक-मेंढकी का जुगाड़ करके उसे दे दिया! अब समझ आ रहा है कि उसने कौन सी तरकीब से इतनी भारी बारिश करवाई है!” -ग्रेग ने मुँह बिचकाते हुए कहा।

वहीँ तूफ़ान की वजहों का खुलासा होने बाद, पूरा टेक्सास ‘जिग्नेश’ के पीछे पड़ गया है, जिग्नेश भी दो दिन से फरार बताया जा रहा है। भागते-भागते बनाये अपने लेटेस्ट विडियो मैसेज में उसने कहा कि, “मैं मा@###** हूँ जो इस देश में आया, गलती हो गयी मेंढक-मेढकी की शादी करवा कर! अब तक तो वो हनीमून पर निकल गए होंगे लेकिन मैं पूरी कोशिश करूंगा कि उन्हें ढूँढकर उनका तलाक़ करवा सकूँ, आखिर ऑडिटोरियम में मैंने भी तो ‘मोदी-मोदी’ चिल्लाना है!”

उधर, सूत्रों की मानें तो वांटेड ‘मेंढक-मेढकी’ का मिलना बहुत मुश्किल है क्योंकि जिस जंगल में दोनों को हनीमून मनाने के लिए छोड़ा गया था वहीँ बीयर ग्रिल्स भी एडवेंचर करने निकल पड़े थे।



ऐसी अन्य ख़बरें