चलते चलते

'इवांका' का पीछा करते हुए अमेरिका तक पहुँच गया इंजीनियर युवक, पुलिस ने प्रेम-पत्र सहित किया गिरफ्तार

02, Mar 2020 By Ritesh Sinha

वाशिंगटन. सूचना मिली है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आज सुबह-सुबह मोदीजी को फोन लगाया था। मोदीजी को लगा कि ट्रंप ने, मोटेरा स्टेडियम में हुए भव्य स्वागत का आभार प्रकट करने के लिए फोन किया होगा लेकिन ट्रंप तो गुस्से की आग में जल रहे थे, पीएम ने जैसे ही फोन लगाया वो बरस पड़े।

ivanka
इवांका के साथ मनोज

“ये क्या करता है मोडी तुम? अपने लड़कों को संभाल के रखने का, एक ‘मुनुज’ नाम का लड़का ‘इवांका’ का पीछा करते हुए यहाँ तक आ गया है, ये ठीक बात नहीं है!” -ट्रंप ने झुंझलाते हुए कहा। उधर, मोदीजी चुपचाप उनकी बातें सुनते रहे, उन्होंने कुछ नहीं कहा।

दरअसल, हुआ यूँ कि समस्तीपुर का रहने वाला मनोज यादव, इवांका ट्रंप का पीछा करते हुए अमेरिका तक पहुँच गया था, कल रात को उसने इवांका के घर में सेंधमारी करने की कोशिश भी की और गेस्ट रूम तक पहुँच गया था।

ये तो अच्छा हुआ कि इवांका के घर में तैनात सुरक्षा गार्ड पीटर चौरसिया ने उसे अपनी तेज निगाहों से देख लिया वरना मनोज ना जाने क्या कर बैठता! पीटर ने मनोज को पुलिस के हवाले कर दिया। मनोज के पास से दो फोटोशॉप्ड फोटो और तीन प्रेम-पत्र बरामद हुए हैं।

जब इस घटना की जानकारी ट्रंप तक पहुँची तो वो आग-बबूला हो उठे। उन्होंने तुरंत इवांका की सुरक्षा बढ़ा दी और दिल्ली फोन घुमा दिया।

उधर, फ़ेकिंग न्यूज से फोन पर बात करते हुए मनोज ने बताया कि, “घर में बैठे-बैठे बोर हो रहा था, सोचा क्यों ना इवांका से बात करके देखा जाए! जब इवांका अपने भारत दौरे में ताजमहल घूमने गयी थी तो मैं भी उस दिन आगरा में ही था, बस, उसी दिन से हम बौरा से गए हैं! हमने ठान लिया कि इनको अपने दिल की बात बताकर ही दम लेंगे!

हमने इंडिया में भी बहुतै कोशिश की लेकिन उनसे भेंट नहीं हो पाई! खैर, हम भी जिगर के पक्के हैं, यहाँ तक आ गये.. लेकिन ये ससुरे पुलिस वाले हमें उनसे मिलने नहीं दे रहे हैं!” -मनोज ने आगे बताया। उधर, अमेरिकी सरकार ने मनोज को वापस इंडिया डिपोर्ट करने की कार्रवाई शुरू कर दी है।



ऐसी अन्य ख़बरें