Friday, 23rd August, 2019

चलते चलते

कश्मीर वाले बयान के बाद मोदीजी ने ट्रंप को लगाया फोन, कहा- "आप 'भी' अच्छा फेंक लेते हो!"

23, Jul 2019 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली/वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री मोदी को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा कि G20 समिट के दौरान, पीएम मोदी ने मुझे कश्मीर में मध्यस्थता करने के लिए आमंत्रित किया है! गौरतलब है कि उन्होंने यह बात पाकिस्तानी पीएम इमरान खान की मौजूदगी में कही है।

Trump-Modi.png
ट्रंप से बात करते मोदीजी

जाहिर है उनके इस लॉलीपॉप के बाद इमरान खान को खुश होने का एक मौका मिल गया है, लेकिन यहाँ इंडिया में तो कोहराम मच गया है। जो लोग ‘गोल्फ प्लेयर’ को अच्छे से जानते हैं वो उनकी बातों को जरा भी भाव नहीं दे रहे हैं, वहीँ दूसरी ओर कुछ लोगों ने पीएम मोदी से मांग की है कि वो इस मुद्दे पर अपनी सफाई दें कि क्या उन्होंने सच में ऐसा कहा था?

इन सब विवादों से दूर प्रधानमंत्री मोदी और ट्रंप के रिश्तों में कोई गिरावट दर्ज़ नहीं की गई है, उनका कार्यक्रम पहले जैसा ही चल रहा है।

आज सुबह ही मोदीजी ने ट्रंप को फोन लगाया और कहा कि, “क्या यार मि. ट्रंप, ये क्या बोल दिया तुमने! विपक्ष वाले मेरे पीछे पड़ गये हैं! आप ‘भी’ अच्छे से ‘फ़ेंक’ लेते हैं नई? किसी बात पर आपका ध्यान तो रहता नहीं, कुछ भी मन से बनाकर बोल देते हो! Great going my friend!.

यह सुनकर ‘ट्रंप’ दाँत निकालकर हँसने लगे और बोले- “सब आप से ही सीखा है मोदीजी!” वो ऐसा कह ही रहे थे कि मोदीजी ने उन्हें बीच में ही टोक दिया- “अच्छा! सीरियसली बताओ? कश्मीर कहाँ है तुम्हें पता भी है?”

“मुझे नहीं मालूम! रूस में है शायद, चेचेन्या के बगल में!” -ट्रंप ने झट से जवाब दिया। उनके इस जवाब के बाद दो मिनट का सन्नाटा जरूरी हो गया था, अतः दोनों थोड़ी देर चुप ही रहे। इसी तरह की तीन-चार बातें और करने के बाद ट्रंप ने फोन रख दिया।

उधर, भारत सरकार ने ट्रंप के बयान को गंभीरता से लिया है। विदेश मंत्रालय ने व्हाइट हाउस को एक चिट्ठी लिखकर मांग की है कि, “जैसे ही प्रेसिडेंट ट्रंप ‘सेंसिबल’ बातें करना शुरू कर देंगे, तत्काल हमें सूचित करने का कष्ट करें!” विशेषज्ञों का मानना है कि इस चिट्ठी का जवाब कभी नहीं आने वाला।



ऐसी अन्य ख़बरें