Saturday, 18th August, 2018

चलते चलते

पाँच घंटे में भी फुटबॉल का 'ऑफ-साइड रूल' समझ नहीं पाया युवक, कहा- "इससे अच्छा UPSC की तैयारी कर लेता!"

14, Jun 2018 By Ritesh Sinha

इंदौर. लगातार पाँच घंटे तक यू-ट्यूब वीडियो देखने के बाद भी फुटबॉल के ऑफ-साइड रूल नहीं समझ पाने का अनोखा मामला सामने आया है। शहर का होनहार युवक अमित श्रीवास्तव कल पाँच घंटे तक रिसर्च करता रहा कि आखिर ये ‘ऑफ-साइड रूल’ क्या बला है? फिर भी वह समझ नहीं पाया। थक- हारकर अमित ने तो यहाँ तक कह दिया कि अगर इतनी मेहनत मैं UPSC के लिए करता तो आज किसी जिले का कलेक्टर होता!

football
फुटबॉल देखने की तैयारी करता अमित

दरअसल, अमित ने अभी-अभी फुटबॉल में इंटरेस्ट लेना शुरू किया है, और इसी बीच वर्ल्ड कप भी आ गया! इसलिए वह एक्शन का पूरा मज़ा लेने के लिए इस गेम के सारे रूल जान लेना चाहता था, लेकिन इतनी मेहनत के बाद भी वह सीधी लकीर खींच नहीं पाया और ऑफ साइड रूल में आकर अटक गया।

हालाँकि, अमित ने अभी भी हार नहीं मानी है और उसका कहना है कि इस रूल को समझे बिना ही वह इस बार का वर्ल्ड कप झेल सकता है!

“मैं सुबह से कंप्यूटर पर बैठा था कि कुछ रूल्स वगैरह पढ़ लूँ! बाकी सब तो समझ आ गया, बस यही वाला सर के ऊपर-ऊपर चला गया! दर्जन भर वीडियोस भी देख डाले, फिर भी कोई फायदा नहीं हुआ! पापा जी चार बार डांटकर चले गए कि ये क्या देख रहा है दिनभर, फिर भी मैं लगा रहा! मेरे सभी दोस्त भी ‘क्रिकेट’ वाले ही हैं, ऐसे में मैं अब क्या करूँ?” -अमित ने हमारे रिपोर्टर को बताया।

“खैर, कोई बात नहीं! इस टोटके को जाने बिना भी मैं फुटबॉल का मज़ा ले सकता हूँ, कुछ काम रैफरी के लिए भी छोड़ देना चाहिए कि नहीं!” -उन्होंने गहरी साँस लेते हुए कहा।

“आपका फेवरेट प्लेयर कौन है?” -ऐसा पूछे जाने पर अमित ने बताया कि “देखिए! अभी मुझे पूरे रूल ठीक से पता नहीं हैं, इसलिए मैं ‘लियोनेल मेसी’ को अफोर्ड नहीं कर पा रहा हूँ, वो बहुत महंगा पड़ रहा है! इसलिए फिलहाल ‘सुआरेज़’ से काम चला रहा हूँ, जैसे ही ये ऑफ-साइड रूल क्लियर हो जाएगा मैं भी मेसी क्लब में शामिल हो जाऊँगा!



ऐसी अन्य ख़बरें