Tuesday, 15th October, 2019

चलते चलते

बारिश देखकर शास्त्री बोले- "क्या सही मौसम हो गया यार!", लोग कुछ और ही समझे

28, Jun 2019 By बगुला भगत

लंदन. मैनचेस्टर में कल जैसे ही बारिश शुरु हुई तो टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री आसमान की तरफ़ मुँह करके और अँगड़ाई लेते हुए बोले, “क्या सही मौसम हो गया गुरू!” उनका इतना कहना था कि सारे प्लेयर उन्हें मुँह फाड़कर देखने लगे क्योंकि उन्हें तो दो प्वॉइन्ट हाथ से निकलने का डर सता रहा था।

Ravi-Shastri-Mausam1
कोच साब की बात सुनकर ठहाका लगाते प्लेयर्स

“कभी कुछ और भी सोच लिया करो कोच साब!” -कोहली ने ताना मारते हुए कहा। यह सुनकर कुछ प्लेयर एक-दूसरे को कोहनी मारते हुए मुँह छुपाकर हँसने लगे। कुछ कमेंट भी मारने लगे।

ये सब देखकर शास्त्रीजी बिदक गये और बोले, “यार, अगर मैं मौसम को मस्त बता रहा हूँ तो क्या इसका हमेशा एक ही मतलब होता है? बोलो!”

अब कोचिंग स्टाफ़ और प्लेयर सब चुप हो गये। फिर शास्त्रीजी एक फ़ेमस शेर फ़रमाते हुए बोले-

“एक बार की शोहरत उम्र भर चलती है, मैं पियूँ जो पानी तो लोग रम समझते हैं”

लेकिन प्लेयर्स इस शेर को सुनकर और ज़ोर-ज़ोर से खीं..खीं करने लगे और बोले, “छोड़ो कोच साब, आप अपने काम पे लगो!” यह सुनकर शास्त्री जी भी चुपचाप मुस्कुराने लगे और पंत को इशारे से बुलाया, उसे कुछ पैसे निकालकर दिये और ‘सामान’ लाने भेज दिया और ‘आज मौसम…बड़ा बेईमान है’ गुनगुनाते हुए अपने कमरे की तरफ़ बढ़ गये।



ऐसी अन्य ख़बरें