Wednesday, 23rd October, 2019

चलते चलते

मांजरेकर की आवाज़ को 25 सालों तक झेलने के लिए फ़ैमिली को मिलेगा बहादुरी पुरस्कार, 15 अगस्त को राष्ट्रपति करेंगे सम्मानित

12, Jul 2019 By बगुला भगत

मुंबई. कुख्यात कमेंटेटर संजय मांजरेकर के परिवार को सरकार बहादुरी सम्मान से सम्मानित करने वाली है। यह सम्मान उन्हें इतने सालों तक मांजरेकर की आवाज़ का पूरी बहादुरी के साथ सामना करने के लिए दिया जा रहा है। राष्ट्रपति कोविंद 15 अगस्त को एक भव्य समारोह में ख़ुद अपने हाथों से उन्हें यह अवॉर्ड प्रदान करेंगे।

Manjrekar-Award
अपने घर में बोलते मांजरेकर

राष्ट्रपति भवन से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि मांजरेकर फ़ैमिली ने उनकी कमेंटरी आवाज़ को झेलते हुए जिस अदम्य साहस और सूझबूझ का परिचय दिया है, वह क़ाबिले-तारीफ़ है। इस असाधारण उपलब्धि के लिए महामहिम उन्हें प्रशस्ति पत्र, शॉल और एक करोड़ रुपये नकद देकर सम्मानित करेंगे।

विज्ञप्ति में यह भी लिखा है कि जहाँ आम लोग मांजरेकर की सिर्फ़ 5 मिनट की कमेंटरी सुनकर ही बेहोश होने लगते हैं, वहीं इन बहादुर लोगों ने उसे 25 सालों तक झेला है। उनकी बहादुरी का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दूसरे लोगों के पास जहाँ चैनल बदलने का ऑप्शन रहता है, वहीं ये लोग घर छोड़कर भी नहीं जा सकते थे। इन्होंने उस आवाज़ के हमले से जूझते हुए इतने सालों तक ना सिर्फ़ अपने आपको बचाये रखा बल्कि मानसिक और शारीरिक रूप से पूरी तरह फिट भी रहे।

इस ख़बर के आते ही एक अजीब सीन क्रिएट हो गया है। कमेंट्री बॉक्स में मांजरेकर के साथ बैठकर कमेंट्री करने वाले कमेन्टेटर्स ने भी अब मुआवज़े और अवॉर्ड की माँग कर दी है। इनके अलावा, देश और दुनिया से लाखों क्रिकेट फ़ैन्स भी माँग कर रहे हैं कि इस बात के लिए कोई छोटा-मोटा अवॉर्ड तो उन्हें भी मिलना ही चाहिए।



ऐसी अन्य ख़बरें