Friday, 22nd November, 2019

चलते चलते

गाँधी जयंती के अवसर पर 'हिंसा' करने के जुर्म में रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल गिरफ्तार

03, Oct 2019 By Ritesh Sinha

विशाखापत्तनम. सूचना मिली है कि मयंक अग्रवाल के आउट होते ही वाइजैग पुलिस ने टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम पर धावा बोल दिया और गाँधी जयंती के अवसर पर हिंसा करने के जुर्म में अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस जब अग्रवाल को पकड़कर ले जा रही थी तभी फाफ डु प्लेसिस ने पीछे से इशारा कर दिया कि, ‘एक और है! उसे भी ले जाइये!’ तो पुलिसवालों ने रोहित शर्मा को भी जीप में जीप में डाल लिया।

rohit-mayank
अब जेल में पीसेंगे चक्की!

इस घटना के बाद विराट कोहली और टीम के सपोर्ट स्टाफ सकते में आ गये हैं, उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा कि अब इस मैच का क्या होगा? अगली पारी में ओपनिंग कौन करेगा?

दरअसल, दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विशाखापत्तनम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने शानदार बल्लेबाज़ी की है, रोहित शर्मा ने 176 रन और मयंक अग्रवाल ने दोहरा शतक जड़कर दक्षिण अफ्रीका पर जमकर कहर ढाया है।

वहीँ दूसरी ओर गाँधी जयंती के अवसर पर हिंसा छोड़ने की बात भी की जा रही है लेकिन अग्रवाल और शर्मा जी के लड़के पर इस अपील का कोई असर नहीं पड़ रहा है, बस इसी बात से नाराज़ ‘वाइजैग’ पुलिस ने इन दोनों को उठा लिया है।

सिटी पुलिस कमिश्नर त्यागराज चौहान ने बताया कि, “ये क्या हो रहा है? गाँधीजी के देश में ‘हिंसा’, वो भी हमारे मेहमानों के साथ? माना कि दक्षिण अफ्रीका की गेंदबाज़ी देखकर KRK की याद आ जाती है, फिर भी इतना अत्याचार नहीं होना चाहिए!”

ये दोनों लड़के इस हिंसा में सबसे ज्यादा शामिल थे इसलिए हमने इन दोनों को उठा लिया! एक और सस्पेक्ट है, कोहली नाम का, आज उसका बल्ला नहीं चला वरना उसे भी उठा लेते!” -कहते हुए वे अग्रवाल और रोहित से पूछताछ करने निकल पड़े।

उधर, टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री भी आग बबूला नज़र आये। उन्होंने वाइजैग पुलिस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि, “मुझे मयंक की कोई चिंता नहीं है लेकिन मुंबई के बैट्समैन, रोहित शर्मा को कोई कैसे गिरफ्तार कर सकता है? संजय मांजरेकर के साथ मिलकर हम पुलिसवालों की ईंट से ईंट बजा देंगे!”

अब देखना दिलचस्प होगा कि टीम इंडिया की गेंदबाज़ी शुरू होने से पहले इन दोनों को छोड़ा जाता है या नहीं?



ऐसी अन्य ख़बरें