Tuesday, 19th November, 2019

चलते चलते

RCB देगी सभी टीमों को कोका-कोला की बोतल, कहा- "जो भी स्ट्रेटेजी बनाते हैं सबको पता चल ही जाती है!"

09, Apr 2019 By किल बिल पांडे

ब्यूरो रिपोर्ट. कहते हैं कि अगर हालात ना बदले जा सकते हों तो उनके साथ समझौता करना ही बेहतर है। ये बात किसी की समझ में आये ना आये, आरसीबी की समझ में आती दिख रही है। बार-बार जीतने के इरादे से मैदान में उतरकर हर बार हारने वाली आरसीबी ने क़िस्मत से समझौता करते हुए टूर्नामेंट के बाक़ी बचे मैचों में विरोधी टीमों को भेंटस्वरूप कोका-कोला देने का फ़ैसला किया है।

RCB-coca-cola
स्ट्रेटेजी बनाते कोच और कप्तान

आरसीबी ने ये फ़ैसला मैच के दौरान टीवी पर आने वाले रणबीर कपूर और परेश रावल के कोका-कोला के विज्ञापन से प्रभावित होकर लिया है। ‘हार के 101 बहाने’ किताब हाथ में पकडे विराट कोहली ने बहुत ज़ोर देने पर हमारे रिपोर्टर को बताया कि “हमारा हाल विज्ञापन के रणबीर कपूर जैसा ही है!”

“हम चालाकी से कोई भी स्ट्रेटेजी बनायें, वो कोका-कोला की एड वाले मकान मालिक की तरह सामने वाली टीम को पता चल ही जाती है। तो स्ट्रेटेजी बना के भी क्या फायदा!” यह पूछे जाने पर कि टीम हार के सिलसिले को तोड़ने के लिए क्या कर रही है तो विराट ने कहा “कुछ नहीं!”

रिपोर्टर की आँखों में हैरानी भाँपते हुए विराट बोले, “हमारे संस्थापक माल्याजी के कहने पर स्थापना के टाइम से ही टीम में पार्टी का माहौल बना हुआ है, फिर चाहे कैसी भी परिस्थिति क्यूँ ना हो। हार को भी हमारी टीम एक महोत्सव की तरह ही लेती है।”

“मैच हारने के बाद हमारे प्लयेर टीम के व्हॉट्सएप ग्रुप में खुद के ही मीम शेयर कर जम के मज़े लेते हैं। साथ ही टीम की बस में ‘अब तो आदत सी है ऐसे जीने में’ भी लूप पर चलता रहता है।” -कोहली ने कोक की बोतल पैक करते हुए कहा।

हमारे रिपोर्टर ने जब टीम के कोच गैरी कर्स्टन से पूरे मामले पर बात करने की कोशिश की तो उन्होंने यह कहकर इनकार कर दिया कि वो अभी इनबॉक्स से डॉक्टर बत्रा के ईमेल डिलीट करने में व्यस्त हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें