Thursday, 20th September, 2018

चलते चलते

"बॉलिंग में कुछ नहीं रखा, मुझसे कॉमेंट्री सीख लो!" -रवि शास्त्री कर रहे हैं अर्जुन तेंदुलकर का ब्रेनवॉश

26, Jun 2018 By Ritesh Sinha

मुंबई/लंदन. सचिन के बेटे अर्जुन तेंदुलकर का करियर अभी शुरू भी नहीं हुआ है कि उसने गेंदबाज़ी छोड़कर कमेंटेटर बनने का सपना देखना शुरू कर दिया है। उसने कल शाम को सचिन को फोन लगाया और कहा कि “पापा! अब मैं क्रिकेट नहीं खेलूँगा! इसमें कोई स्कोप नहीं है, खासकर ‘गेंदबाज़’ के लिए तो बिल्कुल भी नहीं! इसलिए अब मैं कमेंटेटर बनूँगा! मस्त स्कोप है!”

ravi-shastri शास्त्री
अर्जुन तेंदुलकर को सलाह देते रवि शास्त्री!

अर्जुन की ये बातें सुनकर सचिन के पैरों तले से जमीन खिसक गई और उन्हें ‘आईला’ कहने का भी मौका नहीं मिला! माना जा रहा है कि अर्जुन को ऐसा करने के लिए रवि शास्त्री ने भड़काया है, जो फिलहाल सीनियर टीम के साथ प्रैक्टिस करने के लिए लंदन में हैं। वहीं पर वो शास्त्री की चपेट में आ गए और उन्होंने कमेंटेटर बनने की ज़िद पकड़ ली।

हमारे रिपोर्टर ने लंदन से ख़बर भेजी है कि नेट प्रैक्टिस के दौरान शास्त्री ने अर्जुन को अपने पास बुलाया और उनको पट्टी पढ़ाने लगे। उन्होंने कहा, “मुझे देख! मैं कहीं भी फिट हो जाता हूँ! कॉमेंट्री करते-करते कोच बन गया! बीच-बीच में टीम मैनेजर बन जाता हूँ! ‘सलेक्टर’ के पोस्ट को भी बदनाम कर चुका हूँ! आज कोहली मेरी जेब में है! कहीं भी कभी भी ‘मार’ देता हूँ, कोई कुछ नहीं बोलता!”

“..और क्या चाहिए लाइफ़ में? इतना सब कुछ तुम्हें एक बॉलर बनने के बाद मिलेगा क्या? बिल्कुल नहीं! उल्टे आईपीएल में तुम्हारी जमकर पिटाई होगी, इसलिए कहता हूँ कि रास्ता चेंज कर लो! मेरी लाइन में आ जाओ!”

शास्त्री जी की इन बातों को ध्यान से सुनने के बाद अर्जुन ने वादा किया कि वो आज शाम को ही अपने पापा से बात करेगा और उसने ऐसा किया भी! उधर, जब से अर्जुन का फोन आया है सचिन सोच में डूब गए हैं! उन्होंने अर्जुन को मैसेज किया है कि “तुम शास्त्री के पास तो नहीं हो? अगर हो तो उसके साथ ज्यादा दिन मत रहो! कोई भी फ्लाइट पकड़कर तुरंत वापस मुंबई आ जाओ, चाहे एयर इंडिया ही क्यों ना हो!”



ऐसी अन्य ख़बरें