Sunday, 5th April, 2020

चलते चलते

CAA की वजह से 'U-19 वर्ल्ड कप' हार गई भारतीय टीम: ममता बनर्जी

10, Feb 2020 By jd

कोलकाता. भारत और बांग्लादेश के बीच हुए U-19 वर्ल्ड कप के फाइनल मे बांग्लादेश ने भारत को तीन विकेट से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया है। कम स्कोर वाले इस रोमांचक मैच में टीम इंडिया 177 रन को डिफेंड नहीं कर पाई और बांग्लादेश की टीम ने ले-देकर यह मैच जीत लिया। इस जीत से एक ओर जहाँ भारतीय फैंस काफी निराश हैं वहीं कुछ लोगों ने इस हार की जिम्मेदारी ‘नागरिकता संशोधन कानून’ पर थोप दी है।

Mamta
U-19 टट्रॉफी चाहिए तो CAA वापस लो!

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर हार का ठीकरा फोड़ते हुआ कहा कि, “अगर ‘CAA’ बिल का देश में खौफ नहीं होता तो बांग्लादेश की तरफ से खेल रहे सारे प्लेयर्स आज इंडिया में ही होते और हमारी टीम की ओर से मैच खेल रहे होते!

आज उनके भाग्य में जीत लिखी हुई थी, इसका मतलब अगर वो इधर से खेलते तो वर्ल्ड कप हमारा था, इसलिए मैं कहती हूँ कि ये इधर-उधर का झंझट ख़त्म करो और सबको आने-जाने की छूट दे दो!”

इसके बाद ममता दी ने काफी देर तक ‘का-का छी-छी’ वाला मंत्रजाप किया और आगे बोलीं- “बांग्लादेश में टैलेंट भरा पड़ा है, मतलब छलक रहा है.. अगर हमने उन्हें पनाह नहीं दी तो वे लोग ऐसे ही हमारी ट्रॉफी हमसे छीनते रहेंगे! आज वर्ल्ड कप चुरा ले गये, कल ओलंपिक में ‘मैडल’ सरकाकर ले जाएंगे और आप बस कागज देखते रह जाओगे मोदीजी!” -दीदी बरस पड़ीं।

वहीं ममता दी के इस बयान का जवाब देते हुए संबित पात्रा ने आग उगला है कि, “ये सारे आरोप बे-बुनियाद हैं, मैंने बांग्लादेशियों को खेलते हुए अपनी आँखों से देखा है, इन्हीं आँखों से, ओवर-पिच गेंदों में भी ‘Bowled’ हो जाते हैं साले! ऐसे लोगों को आप देश में घुसाना चाहते हैं, धिक्कार है!”

खैर, राजनीति तो चलती रहती है, इतने सालों बाद बांग्लादेश ने ट्रॉफी तो जीत ली लेकिन मैदान में गुंडई करके हमारा दिल, गुर्दा, या ‘जिगर’ सब कुछ हार गये, देश ये सब बर्दाश्त नहीं करेगा!” -पात्रा ने एक साँस में आगे कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें