Thursday, 27th February, 2020

चलते चलते

अंग्रेज़ी बोलने के लिए पाकिस्तानी क्रिकेटरों को बचपन से पिलाई जाएगी दारू, इंडिया के दारूबाज़ों से मिला आइडिया

16, Jan 2020 By बगुला भगत

इस्लामाबाद. दुनिया भर में हुई स्टडीज से यह बात साबित हो चुकी है कि शराब पीने के बाद भारत के लोगों की अंग्रेजी बोलने की क्षमता अचानक बढ़ जाती है। इसी बात से प्रेरणा लेकर पाकिस्तान भी अपने क्रिकेटरों को बचपन से दारू पिलाने की तैयारी कर रहा है।

sarfraz-ahmed-english
इन्हें बचपन से पिलाई जाएगी दारू

पीसीबी के चेयरमैन एहसान मनी ने इसका एलान करते हुए कहा कि “हमारे क्रिकेटर मैच के बाद अंग्रेजी में जवाब नहीं दे पाते या कुछ का कुछ बोल देते हैं, जिससे हमारे मुल्क़ की काफ़ी बेइज़्ज़ती होती है। जबकि इंडिया वाले खेलने से ज़्यादा अंग्रेज़ी बोलने पे ध्यान देते हैं और हमारे लड़कों से आगे निकल जाते हैं!”

“इसलिए हमने अपने लड़कों को जूनियर लेवल से ही अंग्रेज़ी सिखाने दारू पिलाने का फ़ैसला किया है। और छोटे बच्चों को भी पोलियो की ड्रॉप्स के बजाय अब व्हिस्की की ड्रॉप्स पिलाई जाएंगी ताकि पाकिस्तान अंग्रेज़ी में आत्मनिर्भर बन सके।” – मनी साब ने कहा।

इस ख़बर पर पाकिस्तानी टीम के कप्तान सरफ़राज़ अहमद ने कहा है कि “अगर सरकार ने ये क़दम पहले उठा लिया होता तो आज हम भी कोहली की तरह धड़ाधड़ अंग्रेज़ी बोल रहे होते! एकदम सेम टू सेम!”

उधर, नासा ने भी आसमान से कैप्चर किया हुआ भारत का एक वीडियो जारी किया है, जिसमें भारत में रात आठ बजे के बाद अंग्रेज़ी की ज़्यादा आवाज़ सुनाई दे रही है, जबकि दिन में उसके 10% लोग ही अंग्रेज़ी बोल रहे थे। इस बारे में नासा का कहना है, चूंकि दारू शाम के बाद ही पी जाती है, इसलिए भारत के ज़्यादातर लोगों के मुँह से अंग्रेज़ी भी तभी निकलना चालू होती है।



ऐसी अन्य ख़बरें