Saturday, 22nd September, 2018

चलते चलते

'अल्लाहो-अकबर' बोलकर युवक ने सास को भगाया, दो महीने से जमी थी घर में

08, Aug 2018 By बगुला भगत

मुंबई. एक युवक ने अपनी सास को घर से भगाने के लिए एक ऐसा अनूठा तरीक़ा अपनाया, जिसे सुनकर हर कोई उस पर थू-थू कर रहा है। अंधेरी इलाक़े में रहने वाले संतोष सराठे नामक इस युवक ने अपनी सास को भगाने के लिए ‘अल्लाहो-अकबर’ नारे का इस्तेमाल किया।

man-shouting1
सास को भगाने के लिए चिल्लाता मिलिंद

प्राप्त जानकारी के अनुसार, संतोष सराठे की सास पिछले दो महीने से उसके घर में जमी हुई थी और किसी भी तरह से जाने का नाम नहीं ले रही थी। कोई और चारा ना देखकर सराठे ने आज सुबह-सुबह, जब सासू माँ सो रही थी, ज़ोर से नारा लगाया- “अल्लाहो-अकबर…अल्लाहो-अकबर!”

यह सुनते ही सास ने आव देखा ना ताव और सर पे पैर रखकर भाग खड़ी हुई और नासिक अपने घर पहुँचकर ही दम लिया। हड़बड़ी में वो अपने कपड़े-लत्ते और चप्पल भी वहीं छोड़ गयी। संतोष के एक पड़ोसी ने अपने घर की खिड़की में से झाँकते हुए हमारे रिपोर्टर को ये सारा क़िस्सा बताया।

फिलहाल, सराठे को अपनी सास को आतंकित करने और धर्म का ग़लत इस्तेमाल करने के आरोप में हिरासत में ले लिया गया है। पूछताछ में उसने अपना जुर्म क़बूल कर लिया है। उसका कहना है कि आतंकवादियों के ‘अल्लाहो-अकबर’ चिल्लाने और उसके ख़ौफ़ को देखकर उसे यह आइडिया आया।

उधर, कुछ लोगों का कहना है कि वो अपनी सास को ‘जय श्रीराम’ बोलकर भी भगा सकता था क्योंकि आजकल ‘जय श्रीराम’ नारे का भी उतना ही ख़ौफ़ देखा जा रहा है, जितना ‘अल्लाहो-अकबर’ का! जहाँ भी ‘जय श्रीराम’ के नारे की आवाज़ आती है, लोग डर के मारे घरों में दुबक जाते हैं या घर छोड़कर भाग जाते हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें