Saturday, 20th April, 2019

चलते चलते

कोई अप्रैल-फूल ना बना दे इसीलिए सोशल मीडिया से दूर रहा युवक, अंत में काम वाली बाई ने छुट्टी मारकर बनाया 'मूर्ख'

02, Apr 2019 By ANKIT SHARMA

इंदौर. याद कीजिये नब्बे का वो दशक जब किसी को अप्रैल-फूल बनाना कितना मुश्किल काम हुआ करता था, कभी हम रबर की छिपकली फेककर लोगों को मूर्ख बनाते थे तो कभी भूतों की डरावनी कहानियाँ सुनाकर। इसके विपरीत आज डिजिटिकरण के ज़माने में सोशल मीडिया और टेलीविज़न के माध्यम से किसी को मूर्ख बनाना इतना आसान हो जायेगा कभी किसी ने सोचा नहीं था।

Maid- Kaam wali Bai
अप्रैल-फूल बनाने में माहिरmaid

इंदौर के राजवाड़ा में रहने वाले 26 वर्षीय रोहित गुप्ता को पिछले 25 सालों से कोई ना कोई अप्रैल-फूल बना रहा है, इसलिए उन्होंने प्रतिज्ञा ली थी की चाहे कुछ भी हो इस साल बचके रहूँगा, चौंकन्ना रहूँगा।

अप्रैल-फूल बनाये जाने वाले मुख्य कारणों का गहराई से विश्लेषण करने के बाद रोहित ने फैसला किया की वो 1 अप्रैल को सोशल मीडिया और न्यूज़ चैनलों से दूर रहेगा।

“आपने अप्रैल-फूल बनने से बचने के लिए क्या-क्या किलेबंदी की थी?” इस प्रश्न का उत्तर देते हुए रोहित बोला “आज ना ही मैंने मोदी जी, राहुल गाँधी और ना ही केजरीवाल का कोई भाषण सुना, ना ही कोई न्यूज़ चैनल खोला! यहाँ तक ऑफिस में सहयोगियों से बचने के लिए आज मैंने पेट दर्द का बहाना बनाकर छुट्टी भी मार ली! दिनभर किसी लड़की से बातचीत भी नहीं की!” -रोहित ने आगे थोड़ा झिझककर बताया।

“इतनी सावधानी के बाद भी आप मूर्ख कैसे बन गए?” -हमने मूल प्रश्न दाग दिया। प्रश्न सुनते ही रोहित का चेहरा उतर गया और धीमी जुबान में बोले- “सब कुछ ठीक चल रहा था, तभी रात के करीब 8 बजे मुझे खाना बनाने वाली बाई का फ़ोन आया, वो बोली कि मैं एक हफ्ते तक काम पर नहीं आऊंगी, भोपाल में मेरे पड़ोसी के चाचा के मामा की दादी स्वर्ग सिधार गई हैं! यह सुनकर मैंने उसे सांत्वना दी और फ़ोन काट दिया!

थोड़ी देर बाद मेरे दिमाग की बत्ती जली, काम वाली बाई का पड़ोसी तो मैं ही हूँ और मेरे कोई चाचा भी नहीं हैं, लगता है उसने मुझे अप्रैल-फूल बना ही दिया! अब मैंने फैसला किया है कि उस काम वाली बाई को निकाल दूंगा!”

उधर, रोहित की पीड़ा के बारे में जब प्रधानमंत्री मोदीजी को पता चला तो उन्हें भी बहुत दुःख हुआ है। उन्होंने रोहित को चिट्ठी लिखकर अगले साल के अप्रैल-फूल की तैयारी करने को कहा है।



ऐसी अन्य ख़बरें