चलते चलते

Viva में बार-बार 'मैंने आपको जवाब दे दिया है!' कहने पर External ने इंजीनियरिंग छात्र को दौड़ाया, प्रैक्टिकल में भी हुआ फैल

20, Jan 2020 By किल बिल पांडे

हिसार. राजनीति आम जीवन में इस हद तक घुस गयी है कि हर कोई राजनीतिक जुमले व भाषण अपनी दिनचर्या में इस्तेमाल करने लगा है। हालाँकि ये जुमले दोधारी तलवार की तरह होते हैं, कई बार बिल्कुल सही जगह पर फिट बैठ जाते हैं और आपकी वाहवाही हो जाती है या कई बार लेने के देने पड़ जाते हैं।

student
Viva में फैल होने के बाद मायूस भुवनेश

ऐसे ही एक जुमले का निजी जीवन में प्रयोग करना एक इंजीनियरिंग युवक को उस समय भारी पड़ गया जब वो प्रैक्टिकल तक में फैल हो गया।

खबर है कि ‘ गंगाधर इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी’ के ‘भुवनेश’ नामक छात्र ने राजनीतिक जुमलों का इस्तेमाल अपने टीचर के सामने कर डाला, जिस वजह से उसके कैरियर के ‘अच्छे दिन’ मुश्किल में पड़ गये।

बायोटेक्नोलॉजी के छठे सेमेस्टर में viva देने उतरे भुवनेश से जब External महोदय ने सवाल पूछे तो भाजपा नेता किरीट सोमैया की तर्ज़ पर भुवनेश के मुँह से एक ही वाक्य निकला- ‘मैंने आपको जवाब दे दिया है!’

चश्मदीदों के मुताबिक शुरू में लगा कि प्रैक्टिकल फाइल पूरी न होने की वजह से शायद भुवनेश नर्वस हो गया है, लेकिन जब आसान सवाल पूछने पर भी भुवनेश ‘किरीट सोमैया’ बना रहा तो External का पारा चढ़ गया। उसने आव देखा न ताव और उसी वक़्त भुवनेश की धुनाई कर डाली, साथ ही मंगलवार होने के बावजूद प्रैक्टिकल में अंडे दे दिये।

धुनाई करते वक़्त External महोदय साफ-साफ कहते हुए सुने गये कि, “मुझे क्या NDTV का रिपोर्टर समझ रखा है जो एक ही जवाब ‘लूप’ पर बोले जा रहा है?” यह धोने-मांजने का प्रसंग लगभग पंद्रह मिनट तक चला।

पूरे मामले पर भुवनेश के ही सहपाठी आशीष ने फ़ेकिंग न्यूज को बताया कि, “यह सब तो होना ही था भैया, ये लड़का पढ़ने-लिखने की बजाय हमेशा न्यूज में घुसा रहता था, रात-रात भर अजनबियों से फेसबुक के कमेंट पर लड़ता रहता! कितनी बार कहा कि राजनीति को निजी जीवन से निकाल के फ़ेंक दे लेकिन उसने मेरी एक ना सुनी!

External अच्छा खासा चाय-समोसा खाकर हमेशा की तरह जलील करके चला जाता। पर इन्हें तो फैंटम बनना था ना, अब भुगतो!” -आशीष ने लैब कोट से हाथ पोछते हुए कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें