Tuesday, 31st March, 2020

चलते चलते

CAA पर झुकी सरकार! अब उन्हीं को साबित करनी होगी भारतीय नागरिकता, जिनके मुँह में गुटखा वगैरह कुछ नहीं भरा होगा

16, Dec 2019 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के ख़िलाफ़ बढ़ते विरोध से केंद्र सरकार उसमें बदलने करने पर मजबूर हो गयी है। सरकार का कहना है कि अब सिर्फ़ उन्हीं लोगों को अपनी भारतीय नागरिकता साबित करनी होगी, जिनके मुँह में गुटखा या पान मसाला जैसी कोई भी चीज़ नहीं होगी।

pan masala-gutkha
भारतीय नागरिकता का सबूत

गृह मंत्री अमित शाह ने इसका एलान करते हुए कहा कि “हम मानते हैं कि मौजूदा नागरिकता अधिनियम के तहत नागरिकता साबित करना बहुत जटिल है। इसलिए ‘कौन इस देश का नागरिक है और कौन नहीं’, यह साबित करने के लिए हमने अब एकदम सिंपल तरीक़ा ढूँढ लिया है!”

इसके बाद शाहजी विस्तार से समझाते हुए बोले, “मान्यवर! कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक हमारे देश के लोगों के मुँह में कुछ ना कुछ भरा होता है। जिसके मुँह में ना भरा हो, समझो वो भारत का नागरिक है ही नहीं! सिंपल!”

उनके इस एलान के बाद, एक ओर जहाँ चबाऊ समुदाय में जश्न का माहौल है तो वहीं कुछ भी ना चबाने वाले लोग में चिंता में डूब गये हैं। ऐसे लोग अब अपने ही देश में अल्पसंख्यक बनकर रह गये हैं। उन्हें चिंता सता रही है कि वे साबित करेंगे भी तो कैसे करेंगे कि वे भी भारत के नागरिक हैं!



ऐसी अन्य ख़बरें