चलते चलते

"गोमूत्र मेरा कुछ नही बिगाड़ सकता!" -कोरोना वायरस ने खुद ट्वीट कर दी सफाई

06, Mar 2020 By Fake Bank Officer

नयी दिल्ली. दुनिया भर में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं, सभी प्रभावित देश अपने-अपने तरीके से वायरस को नियंत्रित करने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन भारत में एक बार फिर सारी उम्मीदें गोमूत्र पर जाकर टिक गई हैं। पहले भाजपा नेता और फिर हिन्दू महासभा ने भी यह दावा किया कि गोमूत्र से कोरोना वायरस का इलाज हो संभव है, महासभा ने तो बाकायदा गोमूत्र पार्टी का आयोजन भी किया था।

virus
ट्वीट करता कोरोना!

व्हाट्सएप्प पर इस तरह की अफवाहों को रोकने के लिए अब खुद  कोरोना वायरस को सामने आकर गोमूत्र के दावे का खंडन करना पड़ा है। कोरोना वायरस ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल @WuhanKaBulla से ट्वीट करके घोषणा की है कि, “गोमूत्र और गोबर मेरा कुछ नही बिगाड़ सकते, बेकार में अपना समय बर्बाद ना करें और अफवाहों से दूर रहें! अगर लक्षण दिखता है तो सीधे डॉक्टर के पास भागें!”

हालाँकि कोरोना की सफाई के बाद भी काफी लोग मानते हैं कि गोमूत्र छिड़कने से सारे वायरस भाग जाते हैं।

भाजपा सांसद और गोमूत्र पर शोध कर चुकी प्रज्ञा ठाकुर ने फ़ेकिंग न्यूज को बताया कि- “कोरोना का ट्वीट भ्रामक और पूर्वाग्रहों से ग्रसित है, उसे भारतीय संस्कृति की समझ नही है, जब गोमूत्र से मेरा कैंसर ठीक हो गया तो यह कोरोना किस खेत की मूली है, उसके लिए तो मेरा श्राप ही काफी है!”

हिन्दू महासभा के एक अन्य नेता ने दावा किया कि नासा की ताज़ा रिसर्च में यह पता चला है कि शरीर पर गोबर का लेप लगाने से कोरोना वायरस आस-पास भी नही फटकता। उनके इस दावे के बाद उनके फोन से व्हाट्सएप डिलीट करने की मांग जोर पकड़ रही है।

उधर, कोरोना वायरस के ट्वीट पर बहस करने के लिए कई न्यूज़ चैनलों ने उन्हें स्टूडियो में बुलाया है, अब देखना यह है कि दुनिया में तबाही मचाने वाला कोरोना प्राइम टाइम की डिबेट में फैलाये जा रहे जहर से खुद को कैसे बचाता है।



ऐसी अन्य ख़बरें