Wednesday, 19th December, 2018

चलते चलते

"मुझे चुनाव से कोई मतलब नहीं है!" -ऐसा कहने वाला युवक सबसे पहले वोट डालता हुआ पकड़ा गया

20, Nov 2018 By Ritesh Sinha

रायपुर. गोपाल तिवारी उर्फ़ गुल्लू को आम जनता ने उस समय धो दिया जब वो सबेरे-सबेरे वोट डालने पोलिंग बूथ पहुँच गया था। दरअसल, गुल्लू पूरे साल भर यह शो-ऑफ करता रहा कि मुझे चुनाव-वुनाव से कोई मतलब नहीं है, कोई जीते या हारे! कोई भी सरकार आ जाए हमें फ्री में खाने के लिए थोड़ी ना दे देगी!

voter
यहीं पर हुआ गुल्लू की धुनाई

यानि की गोलू लगभग हिप्पी बन गया था, किसी से कोई मतलब नहीं! इतना सब करने के बाद ना जाने उसे क्या हो गया जो आज वह आठ बजे ही मतदान करने पहुँच गया। उसे वोट डालने आया हुआ देखकर वहाँ मौजूद लोगों ने उसे तबियत से धो दिया।

माना जा रहा है कि गुल्लू को ‘जागरूकता’ नामक बीमारी ने घेर लिया है, जिसका कोई इलाज नहीं है। इसी वजह से वो सबसे पहले मतदान करने पहुँच गया। गुल्लू पर सबसे ज्यादा हाथ साफ़ करने वाले जितेंद्र कुमार ने बताया कि “साला! बहुत पकाता था, कोई फायदा नहीं है, कोई फायदा नहीं है, सब नेता एक जैसे होते हैं, हमको क्या मिल जाएगा? टाइम खोटी क्यों करना, वगैरह-वगैरह कहता था!”

“लेकिन जब आज मैंने उसे देखा कि वो तो मुझसे पहले भी वोट डालने आ गया है, मुझे यकीन ही नहीं हुआ! हद तो तब हो गई जब वो वोट डालने के बाद मोबाइल निकालकर सेल्फी लेने लगा! मेरा तो खून ही खौल उठा!”

“मैंने सोचा कि वोट हम बाद में डालेंगे पहले इस बेवफा को सबक सिखाया जाए! बस क्या था, विवेक, सिकंदर, संजीव हम सबने मिलकर उसे वहीँ दौड़ा दिया! बहुत मज़ा आया, पूरा हिसाब चुकता कर दिया भाईसाब!”



ऐसी अन्य ख़बरें