Friday, 10th April, 2020

चलते चलते

28 साल से 'कॉम्प्लान' पीकर लंबे हो रहे लड़के का सिर 'इसरो' की सैटेलाईट से टकराया

25, Feb 2020 By चीखता सन्नाटा

झुंझुनू. माँ का प्यार कभी-कभी बच्चों पर कितना भारी पड़ सकता है इसका उदाहरण पालनहार गाँव की एक घटना से देखने को मिलता है, तीस वर्षीय मुन्ना अपने माता-पिता का इकलौता चिराग है जो पिछले 28 सालों से रोजाना ‘कॉम्प्लान’ वाला दूध पीकर ही घर से बाहर  निकलता था, उसकी माँ इमरती देवी कहती थी कि इसे पीने के बाद मेरा राजा बेटा बांस की तरह लंबा हो जाएगा पर उन्हें क्या पता था कि एक दिन उनका बेटा सैटेलाइट से टकरा जाएगा।

tall-man
घर से निकलता मुन्ना

इमरती देवी मुन्ना को ‘कॉम्प्लान’ पिये बगैर घर से बाहर कदम तक रखने नहीं देती थी। आज सुबह जब मुन्ना कॉम्प्लान पीकर घर से बाहर निकला तो उसका सर जोर से किसी भारी चीज से टकरा गया।

‘आखिर उसका सर किस चीज से टकराया?’ -इस बात की असलियत तब पता चली जब इसरो (ISRO) का अपने एक सैटेलाईट से संपर्क टूट गया। मुन्ना के सर से टकराने के बाद सैटेलाईट का पता नहीं चल पा रहा है।

इस घटना के बाद मुन्ना को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। उधर, इसरो वाले भी उसके सर की X-Ray लेकर अपना उपग्रह ढूँढने की कोशिश कर रहे हैं।

“हमने हर कोने में देख लिया, सैटेलाइट मिल ही नहीं रहा है, पूरी जाँच के बाद ही कोई टिप्पणी कर पाएंगे!” -इसरो के प्रवक्ता ने बताया।

इमरती देवी ने इस दुर्घटना के लिए कॉम्प्लान बनाने वाली कंपनी पर सीधा आरोप लगाया है। उसने कहा कि, “मैं तो उसे लंबा बनाना चाहती थी ताकि बहू ढूँढने में कोई परेशानी ना हो, इस कॉम्प्लान के चक्कर में सर में गुमड़ा बना बैठा! बड़ा भद्दा लग रहा है, अब शादी कैसे होगी मेरे बच्चे की!”

“हमें ये नहीं बताया गया कि बच्चों को कब तक कॉम्प्लान पिलाना है, मैं पिछले 28 वर्षों से ‘कॉम्प्लान’ घोल-घोलकर उसे पिला रही हूँ, मुझे क्या पता कि वो इतना लंबा हो जाएगा!” -कहते हुए इमरती देवो भावुक हो उठीं। मामले की गंभीरता को देखते हुए सरकार इस विषय पर कोई कड़ा कदम उठा सकती है।

उधर, सूचना मिली है कि आसमान में जो उपग्रह डैमेज हुआ है, उसी से रिपब्लिक टीवी चैनल का प्रसारण होता था, इस घटना के बाद से अर्नब भी बंद पड़े हुए हैं। खबर लिखे जाने तक दर्शकों को रिपब्लिक टीवी की जगह कार्टून नेटवर्क दिखाया जा रहा है।



ऐसी अन्य ख़बरें