Saturday, 18th August, 2018

चलते चलते

जिस कोक पे 'भाई' लिखा था, उसे बहन पी गई, उल्टी-दस्त से हालत ख़राब

20, Apr 2018 By बगुला भगत

देहरादून. ‘जिसका काम उसी को साजे, और करे तो डंडा बाजे’- इस कहावत का मतलब है कि जो चीज़ जिस बंदे के लिए बनी है, वो उसी को करनी चाहिए, नहीं तो अंजाम बुरा होता है। राजपुर रोड पर रहने वाली सलोनी के पेट में भी कल डंडा बज गया यानि उसकी हालत ख़राब हो गयी। और ये सब हुआ सिर्फ़ एक कोल्ड ड्रिंक की वजह से!

Coke- Bhai
भाई वाली कोक पीने के बाद पेट पकड़कर बैठी सलोनी

हुआ यूँ कि कल रात सलोनी ने ‘कुमकुम भाग्य’ देखते हुए सामने मेज पर रखी कोल्ड ड्रिंक की बॉटल में घूँट भर लिया और घूँट भरते ही उसका भाग्य उससे रूठ गया, यानि उसे उल्टी-दस्त लग गये। घरवाले फ़ौरन उसे हॉस्पिटल लेकर गये, जहाँ डॉक्टरों ने उसे दो बोतल ग्लूकोज चढ़ाकर और दो डब्बे गोलियाँ देकर डिस्चार्ज कर दिया। फिलहाल वो घर में पेट पकड़कर लेटी हुई है।

सलोनी को ग्लूकोज चढ़ाने वाले वॉर्ड बॉय रॉकी (राकेश शर्मा) ने बताया कि “कोल्ड ड्रिंक पीने में तो कोई प्रॉब्लम नहीं है! लेकिन उस लड़की ने ग़लती ये कर दी कि उसने उस बॉटल में घूँट भर लिया, जो उसके लिए बनी ही नहीं थी!”

“मतलब?” “मतलब ये कि उसने वो कोल्ड ड्रिंक की बॉटल पी ली, जिस पे ‘भाई’ लिखा हुआ था! ये देखो!” -उन्होंने एक खाली बॉटल को दिखाते हुए कहा।

“आप ही बताओ भाईसाब! अगर पढ़े-लिखे लोग भी ऐसी ग़लती करेंगे तो फिर हम अनपढ़ों से क्या उम्मीद करें!” -यह कहकर रॉकी जी एक दूसरे मरीज़ को ग्लूकोज चढ़ाने चले गये, जो अपने नाना वाली बॉटल पी गया था।

ग्लूकोज चढ़ाने के बाद उन्होंने जानकारी दी कि कोका कोला ने ‘भाई’, ‘बहन’, ‘मम्मी-पापा’, ‘चाचा-चाची’, ‘नाना-नानी’ और ‘दोस्त’ लोगों के लिए अलग-अलग बोतलें मार्केट में उतारी हैं। अगर कोई किसी और की बॉटल पीयेगा तो उसका हाल भी इन लोगों जैसा हो जाएगा।

फिर वो हमें हिदायत देते हुए बोले, “आप भी ध्यान रखें और बॉटल में घूँट भरने से पहले ध्यान से देख लें कि उस पे क्या लिखा हुआ है। कहीं ऐसा ना हो कि आप अपनी नानी वाली बॉटल पी जाएँ और फिर गठिया बाय से कराहते फिरें!”



ऐसी अन्य ख़बरें