Thursday, 23rd May, 2019

चलते चलते

सैंकड़ों आतंकी एक साथ पहुँचे, जन्नत में पड़ गई हूरों की शॉर्टेज

26, Feb 2019 By बगुला भगत

जन्नतपुरी. कल रात भारतीय वायुसेना के हवाई हमलों में पाकिस्तान के सैंकड़ों आतंकवादी अल्लाह को प्यारे हो गये। इतनी भारी मात्रा में एक साथ आतंकियों के पहुँचने की वजह से जन्नत में अचानक हूरों की शॉर्टेज हो गयी, जिसकी वजह से आतंकियों ने वहाँ बवाल काट दिया।

terrorists
हूरों के लिए दौड़ते आतंकी

जन्नत से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, सभी मृत आतंकी 72-72 हूरें मिलने की उम्मीद में वहाँ पहुँचे थे लेकिन जन्नत के कर्मचारी उन्हें शॉर्टेज बताकर एक-एक, दो-दो हूर पकड़ाकर टरकाने लगे। बाद में वे भी ख़त्म हो गयीं तो पर्ची देने लगे। इससे नाराज़ होकर सारे आतंकी धरने पर बैठ गये और “हमारी हूरें पूरी करो!” के नारे लगाने लगे।

जो आतंकी थोड़े उम्रदराज़ थे, वे तो सब्र कर गये लेकिन जवान लौंडे बिखर गये। रिस्कीउद्दीन नाम के एक जवान आतंकी ने ग़ुस्से में पर्ची फाड़ते हुए कहा, “अगर यहाँ भी हमें अपने भरोसे ही रहना था तो फिर मरने की क्या ज़रूरत थी! हम वहीं ना पड़े रहते!”

रिस्कीउद्दीन के बाजू में खड़े जलीलुद्दीन ने कहा, “पैंचो, अगर ये पता होता कि ऊपर ये हमें पर्ची पकड़ाने वाले हैं तो मैं अलीमन को छोड़कर क्यों आता!” बाद में उसने अपने अफ़ेयर के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि कमांडर की बेटी अलीमन के साथ उसका कई महीनों से लफ़ड़ा चल रहा था।

उधर, इस ख़बर के पृथ्वी पर पहुँचने के बाद आतंकियों का जन्नत से मोहभंग होने की आंशका जताई जा रही है। वहीं दूसरी ओर, मसूद अज़हर और हाफ़िज़ सईद जैसे उनके आका शॉर्टेज वाली बात को दबाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं क्योंकि अगर आतंकियों को पता चल गया कि ऊपर कुछ नहीं मिल रहा, तो कहीं वे मरना बंद ना कर दें!



ऐसी अन्य ख़बरें