Friday, 10th April, 2020

चलते चलते

"अगर भारत में पेट्रोल सस्ता हो गया तो पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे, इसलिए नहीं घटा रहे रेट" - शाह

19, Mar 2020 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट के बावजूद मोदी सरकार ने पेट्रोल-डीज़ल के रेट घटाने के बजाय और बढ़ा दिये, जिस पर लोग बिना सोचे-समझे हल्ला मचाने लगे। गृहमंत्री अमित शाह ने आज रेट बढ़ाने की ऐसी वजह बताई है, जिसे सुनकर ‘सस्ता-सस्ता’ चिल्लाने वालों की बोलती बंद हो जायेगी।

amit-shah-petrol-rate
“पाकिस्तान नहीं चाहता कि पेट्रोल-डीज़ल के रेट बढ़ें!”

शाहजी ने तेल महँगा करने की वजह का ख़ुलासा करते हुए कहा है, “दरअसल, पाकिस्तान नहीं चाहता कि भारत में पेट्रोल-डीज़ल के रेट बढ़ें। अगर हमने रेट घटा दिये तो पाकिस्तान में पटाखे फूटेंगे!”

आप चाहते हो कि पाकिस्तान में पटाखे फूटें? बताओ…आप चाहते हो कि पाकिस्तान में पटाखे फूटें?” उन्होंने सामने बैठी जनता से पूछा। पाकिस्तान का नाम सुनते ही जनता की नसें फड़कने लगीं और वो चिल्लाई- “नहीं…बिल्कुल भी नहीं!”

तो शाहजी मुस्कुराते हुए बोले, “बस, इसीलिए नहीं घटा रहे रेट! और बहनो-भाईयो, अगर हमने पेट्रोल-डीजल सस्ता कर दिया तो दुनिया क्या समझेगी? दुनिया समझेगी कि भारत के लोग ग़रीब हैं, वे महँगी चीज़ नहीं खरीद सकते। तो क्या हमें भारत की ग़रीब वाली इमेज ही बनाये रखनी है या भारत की अमीरी का डंका बजाना है?”

“डंका बजाना है…डंका बजाना है!” – पब्लिक चिल्लाई। “तो बस यही कर रही है नरेन्द्रभाई मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार!” शाहजी ने कहा और हाथ हिलाते हुए पब्लिक से विदा ली और जाते-जाते हमारे रिपोर्टर के कान में बोले, “देख लो! ये लोग तो 200 रुपये लीटर में भी ख़रीदने को तैयार हैं! तो हम सस्ता क्यों करें? बोलो!”

उधर, कांग्रेस आरोप लगा रही है कि बीजेपी अपने नये 7 स्टार ऑफ़िस के लिए प्लॉट देख रही है, इसीलिए पेट्रोल-डीज़ल के रेट कम नहीं कर रही। बीजेपी ने इन आरोपों को बेबुनियाद और घटिया राजनीति से प्रेरित बताया है।



ऐसी अन्य ख़बरें