Tuesday, 19th June, 2018

चलते चलते

नासा को मिला मंगल ग्रह पर जीवन का प्रमाण, 'क्यूरियोसिटी' के भेजे सिग्नल में सुनाई दिया 'मोदी-मोदी' का शोर

14, Jun 2018 By Fake Bank Officer

वाशिंगटन डी सी. मंगल ग्रह पर ‘जीवन’ की संभावनाओं पर अध्ययन करने के लिए भेजे गए नासा के ‘क्यूरियोसिटी’ रोवर ने एक बार फिर सनसनीखेज जानकारी भेजी है। कंट्रोल रूम में बैठ कर ‘सुडोकु’ खेल रहे नासा के वैज्ञानिक उस समय दंग रह गए जब उनको क्यूरिऑसिटी से एक ऑडियो सिग्नल आया। पहले तो उन्हे लगा कि कैंडी क्रश का नोटिफिकेशन आया है, लेकिन सिक्योरिटी गार्ड ने आकर बताया कि “साहब! ये सिग्नल तो मार्स से आ रहे हैं!” तब जाकर  वैज्ञानिकों ने स्पीकर की आवाज़ बढ़ाई और उसमे ‘मोदी-मोदी’ की आवाज सुनी।

space
मंगल ग्रह से भी आने लगी मोदी-मोदी की आवाज

“यह बड़ी हैरतअंगेज़ घटना है! बीस साल के करियर में मैंने पहली बार ऐसा कुछ सुना है! लेकिन मेरी समझ में ये नहीं आ रहा कि क्यूरियोसिटी ने ऑडियो सिग्नल कैसे भेज दिया, क्योंकि इस रोवर में ऑडियो सिग्नल भेजने की टेक्नोलॉजी तो थी ही नही! लगता है ये भी बीजेपी के IT सेल वालों की हरकत है!” -मार्क नाम के एक उम्रदराज वैज्ञानिक ने बताया।

“या फिर ऐसा भी हो सकता है कि रोवर ने मार्स पर जाकर उन्नति कर ली हो, या फिर वहाँ के निवासी हमें कुछ संदेश देना चाहते हों!” -मार्क ने आगे बताया।

वहीँ, बगल में खड़े एक अन्य वैज्ञानिक ने उत्साहित होते हुए बताया कि “काफी समय से यह कभी कोई पत्थर तो कभी कोई मूर्ति जैसे फालतू फ़ोटो भेज रहा था! हम समझ रहे थे कि इतना पैसा जो इस पर फूँका है सब पानी में बह गया, लेकिन आज इसने जो सिग्नल भेजा है, कसम से दिल खुश कर दिया! आवाज सुनकर हमें लगा कि ‘मोदी’ वहाँ की कोई लोकल प्रजाति होगी, पर हमारे चाय वाले भैया ने बताया कि ये ससुरा तो भारत का प्रधानमंत्री है, और हमारे ट्रम्प का लंगोटिया यार भी, तब हमें पता चला!”

उधर, सारी दुनिया मे कयास लगाए जा रहे हैं कि मंगल ग्रह वासियों का मोदी से क्या कनेक्शन हो सकता है। हमने इस संबंध में एलियन मामलों के विशेषज्ञ ऋतिक रोशन उर्फ कृष से बात की। कृष ने हमारे अनुरोध पर तुरंत ‘जादू’ को फ़ोन लगाया और इस घटना पर टिप्पणी मांगी।

जादू ने बताया कि “दरअसल, मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम की रेडियो तरंगे पूरे अंतरिक्ष मे घूम रही हैं और अब तो ब्रह्मांड में शायद ही कोई ऐसा ग्रह होगा जो जहाँ के लोग मोदी को न जानते हों!”



ऐसी अन्य ख़बरें