Tuesday, 18th September, 2018

चलते चलते

इंजीनियरिंग कर रहे बेटे के पीछे बाप ने लगाया जासूस, वही जासूस बेटे के लिए ओल्ड मोंक लाता पकड़ा गया

03, Jul 2018 By Ritesh Sinha

नोएडा. दिल्ली में इंजीनियरिंग कर रहे अपने बेटे की जासूसी करने के लिए गुप्ता जी ने एक ‘जासूस’ किराये पर रख लिया, और उसे दिल्ली भेेेज दिया, ताकि उनके बेटे की पल-पल जानकारी उन्हें रियल-टाइम में मिलती रहे। दरअसल, गुप्ता जी के बेटे सुमीत ने पिछले कुछ दिनों से ज्यादा पैसा माँगना शुरू कर दिया था और वो पैसों का हिसाब भी नहीं देता था, इसलिए गुप्ता जी को यह कठोर कदम उठाना पड़ा। इसके अलावा उन्हें यह भी शक था कि कहीं सुमीत ने नहाना तो शुरू नहीं कर दिया है!

Engineering Student
‘माल’ लाने गये स्मिथ का इंतज़ार करता सुमीत

लेकिन सुमीत के पीछे जासूस लगाने का यह आईडिया उस समय भारी पड़ गया, जब उस जासूस ने अपना पाला बदल लिया और जासूसी छोड़कर सुमीत के लिए दारू खरीदकर लाने के काम में लग गया। उसका कहना है कि इस काम में उसे ज्यादा मज़ा आता है और पैसे भी ज्यादा मिलते हैं। माना जा है कि ये सब संगति की वजह से हुआ है।

रामविलास पासवान को अपना आदर्श मानने वाले उस जासूस मि. स्मिथ ने बताया कि, “इसका बाप मुझे इसकी जासूसी करने के लिए बीस हज़ार रुपये महीने देता था, लेकिन जब मुझे पता चला कि ये हर रोज़ पार्टी के मूड में रहता है, तो मैंने उस जासूसी वाले काम से इस्तीफ़ा दे दिया और इस धंधे में कूद गया!”

“अब पैसा खर्च वो करता है, और मैं ‘माल’ खरीदकर हॉस्टल तक लाता हूँ, चखना भी! फिर दोनों एक साथ मारते हैं! हर काम के लिए वो मुझे पैसे देता है, और मैं अलग से कमीशन निकाल लेता हूँ, सो अलग! इस तरह कुल मिलाके यही कोई तीस हजार रुपये छाप लेता हूँ! दो महीने हो गए अपनी जेब से एक धेला नहीं दिया है मैंने!” -स्मिथ ने चहकते हुए कहा।

उधर, जब गुप्ता जी को रिपोर्टिंग मिलना बंद हुआ तो वो सीधे दिल्ली आ गए। जब वे सुमीत के कमरे में पहुंचे तो उन्होंने स्मिथ को रंगे हाथ पैग बनाते हुए पकड़ लिया। फिर क्या था, ‘तूझे इसी काम के लिए भेजा था मैंने!’ -कहते हुए गुप्ता जी ने स्मिथ की जमकर खबर ली। फिलहाल ‘स्मिथ’ सरकारी अस्पताल में भर्ती है और आजकल उसके लिए ‘माल’ सुमीत ला रहा है।



ऐसी अन्य ख़बरें