Thursday, 27th February, 2020

चलते चलते

कहीं पर 'रक्तबीज' लिखा हुआ देखा तो डायरी में नोट कर लिया संबित ने, कहा- "कल डिबेट में किसी को बोलूंगा!"

14, Feb 2020 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. आजकल टीवी डिबेट में प्रवक्ताओं पर विरोधी पक्ष के लोगों को नीचा दिखाने का भारी दबाव होता है, भाजपा वाले ‘कांग्रेस-लेफ्ट’ पर और ‘कांग्रेस-लेफ्ट’ वाले बीजेपी के प्रवक्ता पर हर रोज नया ‘लेबल’ लगाते रहते हैं, मौका देखकर गाली दे देते हैं या फिर झूठे आरोप लगा देते हैं! यही वजह है कि प्रवक्ताओं को रोज नये-नये शब्द सीखने की जरूरत पड़ती रहती है।

sambit patra1
कहाँ छुपा था अब तक!

कल की ही बात है, संबित पात्रा पार्टी दफ्तर से निकलकर अपने घर, यानि कि रिपब्लिक टीवी के स्टूडियो जा रहे थे, कार में बैठे-बैठे उन्होंने देखा कि एक दीवार पर ‘रक्तबीज’ शब्द लिखा हुआ है।

ये शब्द उन्हें रास आ गया, उन्होंने अपनी गाड़ी रूकवा दी और दस मिनट तक उस शब्द को एकटक देखते रहे।

बाद में कुटिलता से मुस्कुराते हुए उन्होंने इस शब्द को अपनी डायरी में नोट कर लिया। इससे पहले कि वो वहाँ से निकल पाते हमारे रिपोर्टर ने उन्हें दबोच लिया।

“संबित जी, आप यहाँ क्या कर रहे हैं? आज डिबेट नहीं है क्या?” -ऐसा पूछे जाने पर पात्रा डायरी छुपाते हुए जवाब दिया कि, “डिबेट में ही तो जा रहा हूँ, ये एक नया शब्द ‘रक्तबीज’ मिल गया था ना, इसलिए रूक गया था! कल इसे डिबेट में यूज करूँगा!

मैं हमेशा से ऐसे शब्दों की तलाश में रहता हूँ, मजा आता है! कल पूरी संभावना है कि इसे कांग्रेस पार्टी के किसी नेता के लिए प्रयोग करूँगा! हाँ, अगर ओवैसी की पार्टी के नेता ने ज्यादा खुराफाती दिखाई तो उस पर भी इसे चेप सकता हूँ!” -कहते हुए वे आगे बढ़ गए।



ऐसी अन्य ख़बरें