Sunday, 8th December, 2019

चलते चलते

राम मंदिर फैसले के बाद राहुल गाँधी ने डाले हथियार, कहा- "अगला चुनाव सीधे 2029 में लड़ेगी कांग्रेस!"

15, Nov 2019 By Guest Patrakar

नयी दिल्ली. चाहे पार्टियाँ मना करे या कोर्ट, नेतागण राम मंदिर के मुद्दे पर राजनीति करना नहीं छोड़ते लेकिन राहुल गाँधी ऐसे नहीं हैं, उन्होंने तो इसी मुद्दे की वजह से चुनाव ना लड़ने का बड़ा फैसला कर लिया है। सा,अचार मिला है कि कांग्रेस पार्टी ने राम मंदिर फैसले के बाद अगला लोकसभा चुनाव ना लड़ने का निर्णय लिया है, अब वो सीधे 2029 पर निशाना साधने का प्लान बना रहे हैं। क्या है इसके पीछे का कारण आइये जानते हैं-

Rahul-Gandhi-Loss
कोई फायदा नहीं है भैया ..

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने राम मंदिर और धारा-370 जैसे मामलों में बीजेपी को मिली सफलता के बाद यह निर्णय लिया है, उनका कहना है कि, “हमारी पार्टी की हालत बुरी से और बुरी होती चली जा रही है, कुछ दिनों बाद शायद चुनाव लड़ने के भी पैसे ना बचें!

इस माहौल में 2024 का चुनाव लड़ना किसी मूर्खता से कम नहीं है, इसीलिए हमने अगले चुनाव में बीजेपी को वाक-ओवर देने के बारे में विचार कर रहे हैं! हम सीधे 2029 में अपना जलवा दिखाएँगे, अभी चुपचाप बैठ जाओ!

वैसे भी, चुनाव ना लड़ने से जो पैसे बचेंगे उतने में ‘बाली’ और ‘थाईलैंड’ की सौ से भी ज्यादा ट्रिप्स हो जाएँगी! यानि आम के आम और गुठलियों के दाम!” -राहुल ने कांग्रेस पार्टी के नेताओं के सामने अपना प्रस्ताव रखा।

हालाँकि भाजपा इस फैसले से डरी हुई है, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि,”भाजपा के वोटों का बड़ा मार्जिन कांग्रेस की वजह से आता है, कांग्रेस चुनाव नहीं लड़ेगी तो इसका मतलब राहुल जी रैली नहीं करेंगे, ऐसे में जीत का सारा दारोमदार हम पर आ जाएगा! और मेरा तो आपको पता ही है!

उनका भाषण सुनकर कई लोग भाजपा को वोट देने के लिए मजबूर हो जाते हैं, हम कांग्रेस से गुज़ारिश करते हैं कि वो भले ही हमसे पैसे ले लें लेकिन चुनाव अवश्य लड़ें!” -जावड़ेकर ने अपना चश्मा ठीक करते हुए कहा। सूत्रों की मानें तो कांग्रेस समेत कई अन्य पार्टियाँ भी 2024 का चुनाव ना लड़ने के बारे में सोच रही हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें