Friday, 22nd November, 2019

चलते चलते

"प्रदूषण बहुत है, CCTV में कुछ नहीं दिखेगा इसलिए जो पहले से लगा है उसे भी निकालकर कबाड़ी में बेचेंगे!" -केजरीवाल

05, Nov 2019 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक नया यू-टर्न ले लिया है, पिछले चुनाव में उन्होंने शहर में 15 लाख नये सीसीटीवी कैमरे लगाने का वादा किया था लेकिन अब वो इस मुद्दे से पीछे हट गये हैं, बल्कि उन्होंने तो यहाँ तक कह दिया है कि जो कैमरे पहले से लगे हुए हैं उन्हें भी निकालकर कबाड़ी वाले को बेच देना चाहिए।

kejriwal-30
पहले से इन्सटाल्ड कैमरों का कनेक्शन काटते मुख्यमंत्री जी

“आप ऐसा क्यों कह रहे हैं?” -ऐसा पूछे जाने पर मुख्यमंत्री जी ने बताया कि, “देखिए! ये सच है कि हमने 15 लाख कैमरे लगाने का वादा किया था लेकिन अब ऐसा करने से कोई फायदा नहीं होगा, क्योंकि शहर में प्रदूषण इतना बढ़ गया है कि कुछ दिखाई ही नहीं देता!

मौसम साफ़ हो तब तो CCTV की फुटेज 1950 के फिल्मों की तरह आती है, तो मौसम खराब होने पर CCTV क्या हाल होगा? इसकी रिकॉर्डिंग अच्छी नहीं आएगी जी?” -उन्होंने तर्क दिया।

इसलिए हमने CCTV वाले वादे से दूर रहने का फैसला किया है, इन बचे हुए पैसों से हम दो-चार चीज़ें और फ्री में दे सकते हैं! चूँकि CCTV से रेलेटेड हमें कुछ ना कुछ तो करना ही पड़ेगा इसलिए अब हमने अपने वादे को 180 डिग्री में घुमा दिया है, अब हम CCTV कैमरे लगाएँगे नहीं बल्कि जो पहले से लगे हुए हैं उन्हें भी निकालकर कबाड़ी वाले को बेच देंगे!” -केजरीवाल ने आगे बताया।

मुख्यमंत्री जी ने सिर्फ घोषणा नहीं की बल्कि मयूर विहार इलाके में पहले से इन्सटाल्ड एक सीसीटीवी कैमरे का कनेक्शन काटकर उन्होंने इस अभियान की शुरुआत भी कर दी है। अगले एक महीनों में ऐसे बीस हज़ार कैमरे निकालकर कबाड़ी वाले के हवाले करने का लक्ष्य रखा गया है।

दिल्ली सरकार के इस फैसले का कुछ लोग समर्थन भी कर रहे हैं, उनका कहना है कि इतने खराब मौसम में CCTV लटकाने से कोई फायदा नहीं होगा, अपराधी कैमरों के नीचे से किसी की गाड़ी चुरा कर ले जाएँगे और ये मुआ चोर का चेहरा ठीक से पहचान भी नहीं पाएगा।



ऐसी अन्य ख़बरें