Monday, 17th June, 2019

चलते चलते

हर राज्य में होंगे दो-दो मुख्यमंत्री, एक वर्ल्ड बैंक के बाहर 24 घंटे खड़ा रहेगा: राहुल गाँधी

13, Dec 2018 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. राहुल गाँधी ने खुलासा किया है कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में दो-दो मुख्यमंत्री बनाए जाएँगे ताकि क़र्ज़ लेने में कोई परेशानी ना हो! जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि ऐसा अजीब निर्णय क्यों लिया गया है? तो उन्होंने बताया कि, “देखिए! हमने इन तीनों राज्यों में कर्जमाफी, बोनस, बेरोज़गारी भत्ता जैसे बड़े-बड़े वादे कर दिए हैं, अब इसके लिए पैसा कहाँ से आएगा ? कहीं ना कहीं से तो क़र्ज़ लेना ही पड़ेगा ना!”

rahul-gandhi-22
अपने प्लान के बारे में सोचते राहुल

“..तो हमने फैसला किया है कि हर राज्य में दो मुख्यमंत्री बना दिया जाए। एक प्रदेश की राजधानी में रहकर शासन चलाएगा और दूसरा वर्ल्ड बैंक के बाहर चौबीसों घंटे खड़ा रहेगा, क़र्ज़ लेने के लिए!”

“आपको पता है आजकल वर्ल्ड बैंक वाले भी एकदम टफ हो गए हैं, पैसा देने से पहले दुनिया भर के सवाल पूछते हैं! ये SBI नहीं है जो एक फोन पर करोड़ों का लोन दे देंगे! बहुत मुश्किल काम है, लेकिन हम ये करके रहेंगे!” -राहुल गाँधी ने आगे बताया।

राहुल गाँधी के इस सुझाव की जबरदस्त सराहना हो रही है। ऐसा करके उन्होंने एक तीर से ही दो शिकार कर लिए हैं। दरअसल, इन तीनों राज्यों में कम से कम दो ऐसे नेता हैं, जो मुख्यमंत्री पद के मज़बूत दावेदार हैं, अतः कुर्सी को लेकर उनमें झगड़ा ना हो जाए यह भी ध्यान रखना होगा! बस, इस समस्या से निपटने के लिए भी दो मुख्यमंत्री बनाए जा रहे हैं। दोनों नेता भी खुश हो जाएंगे।

इसके बाद उन्होंने मुख्यमंत्रियों के नाम का ऐलान कर दिया- “मध्य प्रदेश में हम कमलनाथ जी को मुख्यमंत्री बनाकर भोपाल में बिठाएँगे और मेरे मित्र ज्योतिरादित्य सिंधिया जी शपथ लेते ही वाशिंगटन-डीसी के लिए रवाना हो जाएँगे! उनका सिर्फ एक ही काम होगा, पैसे का जुगाड़ करके वापस भेजना! चाहे इसके लिए वर्ल्ड बैंक के बाहर चौबीसों घंटे क्यों ना खड़ा रहना पड़े!”



ऐसी अन्य ख़बरें