Thursday, 21st November, 2019

चलते चलते

अब श्रीधरण के घर के बाहर धरना देंगे केजरीवाल, हुए केरल रवाना

17, Jun 2019 By किल बिल पांडे

नयी दिल्ली. महिलाओं के लिए दिल्ली मेट्रो में मुफ्त यात्रा की घोषणा के बीच, ‘मेट्रो मैन’ श्रीधरन ने इस प्रस्ताव का विरोध करके इस मुद्दे पर चल रही बहस को और बढ़ा दिया है। श्रीधरन के विरोध की खबर लगते ही, आम के सीजन में आम आदमी पार्टी सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल के तेवर चरम सीमा पर नज़र आ रहे हैं।

arvind
श्रीधरण को वार्निंग देते केजरीवाल

कुछ करने-धरने से ज्यादा, धरने करने के लिए मशहूर अरविंद केजरीवाल ने श्रीधरन के विरोध का विरोध करने के लिए उनके घर के बाहर धरना करने का फैसला लिया है।

मोदी जी की बुराई करने के बाद बचे समय में से वक़्त निकाल कर केजरीवाल ने ट्वीट कर अपने आगामी धरने की जानकारी दी। धरने को लेकर केजरीवाल इतने आतुर दिखे कि ट्वीट करने के तुरंत बाद ही मनीष सिसोदिया और गोपाल राय के साथ केरल के लिये रवाना हो गए।

वक़्त रहते एअरपोर्ट पर फ़ेकिंग न्यूज़ के हाथ लगे मुख्यमंत्री जी ने पूरे मामले पर बात करते हुए कहा कि, “देखो जी, हम तो आम आदमी हैं और हम कर भी क्या सकते हैं? श्रीधरन जी ने हमारी योजना का विरोध करके ये साबित कर दिया है कि वो भी मिले हुए हैं! बस, किसके साथ मिले हुए हैं यही पता लगाना बाकी है!” -उन्होंने आगे कहा।

दूसरी ओर भाजपा ने केजरीवाल को धरने से हटकर कुछ और करने की सलाह देते हुए कहा है कि, ”अब तो हम भी बोर हो गए हैं, केजरीवाल को चाहिए कि अपनी पोर्टेबल मूर्ती बनवा ले और जहाँ धरना देना हो वहाँ शिफ्ट करवा दे! चाहें तो पैसे चाहे हमारे ‘मूर्ती’ फंड से ले लें!”

पार्टी सूत्रों की मानें तो ये धरना इसलिए भी ख़ास है क्योंकि मुख्यमंत्री रहते ये केजरीवाल जी का पचासवाँ धरना है, धरना ख़तम होने बाद, पार्टी मुख्यालय में धरनों की हाफ-सेंचुरी के उपलक्ष में एक भव्य समारोह का आयोजन किया जाएगा, जहाँ गिनीज़ बुक ऑफ़ रिकार्ड्स के अधिकारी केजरीवाल को उनकी इस उपलब्धि के लिए समानित करेंगे।



ऐसी अन्य ख़बरें