Wednesday, 27th March, 2019

चलते चलते

अपनी ही पार्टी के दो टुकड़े करके उसी से गठबंधन करेंगे अरविंद केजरीवाल, भूख होगी शांत

14, Mar 2019 By Ritesh Sinha

नयी दिल्ली. आम आदमी पार्टी सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल, इन दिनों ‘साथी’ की तलाश में दर-दर भटक रहे हैं। पहले दिल्ली में कांग्रेस पार्टी की ऑफिस के चक्कर लगाए और अब हरियाणा में कांग्रेस और ‘JJP’ से गठबंधन करने के लिए गिड़गिड़ा रहे हैं। हालाँकि किसी भी दल ने उन्हें अब तक कोई भाव नहीं दिया है, उधर केजरीवाल जी का उतावलापन दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है।

arvind
मिल गया गठबंधन का साथी!

उनके गठबंधन की भूख बढ़ती जा रही है। यही वजह है कि उन्होंने अपनी ही पार्टी को दो टुकड़ों में बाँटकर उसी के साथ गठबंधन करने का फैसला किया है ताकि गठबंधन की भूख शांत की जा सके।

फ़ेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए केजरीवाल जी ने अपना प्लान समझाया कि, “मुझे गठबंधन चाहिए ही चाहिए, किसी के साथ भी हो! लेकिन ये कांग्रेस वाले समझते ही नहीं हैं!”

“सच कहूँ तो मुझे नशा सा चढ़ गया है, सोते-जागते बस एक ही धुन की मोदी-अमित शाह को हराना है, चाहे कुछ भी करना पड़े! इसलिए मैंने फैसला किया है कि अपनी ही पार्टी को दो हिस्सों में बाँट दूंगा और कुछ दिन बाद उसी से गठबंधन करके अपनी भूख शांत करूँगा!”

“पार्टी को दो टुकड़ों में बाँटने के लिए मैंने JNU से दो बंदे बुलवा लिए हैं! उन्हीं की देखरेख में पार्टी के ‘टुकड़े-टुकड़े’ कर दिए जाएंगे! वो क्या है ना, उनको बहुत अनुभव है ‘टुकड़े’ करने का!”-केजरीवाल ने आगे बताया।

“सिसोदिया को उस पार्टी का लीडर बनाऊंगा और कुछ दिन बाद दुनिया वालों से कहूँगा कि, ‘देखो भाई हमें गठबंधन के लिए साथी मिल गया है!’ जिस दिन मैं अपनी ही पार्टी के टुकड़े से गठबंधन करूँगा ना, उसी दिन कलेजे को ठंडक मिलेगी!” -कहते हुए मुख्यमंत्री जी ने अपार आनंद का अनुभव किया।



ऐसी अन्य ख़बरें