Thursday, 27th June, 2019

चलते चलते

'LIC' ने जितने लोगों का बीमा किया है, उससे दोगुने लोगों को बीजेपी में शामिल करा चुके हैं अमित शाह: रिसर्च

16, Mar 2019 By Ritesh Sinha

एजेंसी. टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ़ सोशल साइंस मुंबई (TISS) के छात्रों ने अपनी रिसर्च में पाया है कि पिछले एक महीने में LIC ने जितने लोगों को जीवन बीमा बेचा है उससे दोगुने लोगों को अमित शाह ने अकेले ही भाजपा में शामिल करा लिया है। ये तो सबको मालूम है कि चुनाव आते ही अमित शाह अपने फॉर्म में आ जाते हैं लेकिन वो ‘LIC’ वालों को पीछे छोड़ देंगे इसका किसी ने अंदाजा नहीं लगाया था।

Amit Shah 4
मैंने कुछ नहीं किया है!

इस रिसर्च में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले छात्र विवेक पाटिल ने फ़ेकिंग न्यूज़ ने बताया कि, “देखिए! शाह जी अब तक प.बंगाल में बीस बड़े नेताओं को अपनी पार्टी में शामिल करा चुके हैं! इससे पहले गुजरात के छः विधायक भी भाजपा में आ गिरे थे! आज टॉम वडक्कम को उन्होंने भाजपा में शामिल करवा लिया है!”

“महाराष्ट्र का तो आपको पता ही है, बाप चिल्लाता रह गया कि ‘बेटा मत जा!’ फिर भी बेटे ने भगवा वस्त्र धारण कर ही लिया! क्या-क्या बताऊँ मैं आपको? एक से बढ़कर एक किस्से भरे पड़े हैं!”

“जब हमने इन लोगों की काउंटिंग की तो पता चला कि शाह ने ‘LIC’ को भी पीछे छोड़ दिया है!” -विवेक ने पन्ना पलटते हुए कहा।

“ऐसा कैसे हो जाता है?” -ऐसा पूछे जाने पर विवेक ने बताया कि, “ये तो हमें भी पता नहीं कि शाह जी ये सब कैसे कर लेते हैं, लेकिन हमें लगता है कि जरूर उनके पास ‘प्रभावित’ करने का कोई सीक्रेट मंत्र है!” -उन्होंने माथा खुजाते हुए कहा।

हालाँकि कुछ लोगों का मानना है कि शाह जी ‘जिंदगी के साथ भी, जिंदगी के बाद भी!’ वाले थ्योरी पर ‘LIC’ वालों से ज्यादा यकीन करते हैं इसीलिए विपक्षी दल के सारे नेता उन्हें ‘मना’ नहीं कर पाते। हालाँकि इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है।



ऐसी अन्य ख़बरें