चलते चलते

कोई नहीं मिला तो अपने 'कुक' का गठबंधन तोड़ दिया शाह जी ने, पत्नी सहित सास-ससुर से हुआ झगड़ा

01, May 2020 By Vish

नयी दिल्ली. बड़े-बड़े गठबंधनों को सरलता से तोड़ने की कला में निपुण BJP के पूर्व अध्यक्ष अमित शाह जी इन दिनों खाली बैठे हुए हैं, लाॅकडाऊन का माहौल है और किसी भी विरोधी दल में घुसपैठ करने का मौका नहीं मिल रहा है।

cook
तेल चढ़ाते बलवंत कुक

अपनी हॉबी से दूर रहने का ऊल्टा असर उनके व्यवहार में दिखना शुरू हो गया है, आजकल वो छोटी-छोटी बातों पर भी झुंझला जाते हैं और सामने वाले को डाँटने लगते हैं।

कुछ दिन पहले तो उन्होंने अपने माली को सिर्फ इसलिए डाँट दिया क्योंकि वो पौधों को पानी दे रहा था। ये बात यहीं तक सीमित रहती तो कोई बात नहीं थी बल्कि अब इसका साइड इफेक्ट उनके घर पे काम करने वाले नौकर-चाकरों पर भी पड़ने लगा है।

रसोईये राजू हलवाई का अपनी पत्नी तथा सास-ससुर के साथ झगड़ा हो गया है और अब उसका दाँपत्य जीवन खतरे में पड़ गया है। माना जा रहा है कि अपनी कला में धार लगाने के लिए शाह जी ने ही राजू के गठबंधन में दरार लगाई है।

फ़ेकिंग न्यूज से बात करते हुए राजू की पत्नी झुमरी ने बताया कि, “पता नहीं बेला के पापा को आजकल क्या हो गया है, बात-बात पर डाँटते रहते हैं और कहते हैं कि घर नहीं आऊंगा! कल मैंने उनसे कहा कि शाह जी के घर से थोड़ा सा धनिया चुराकर ला लेना जी, हमारे यहाँ नहीं है तो उन्होंने मुझे ये कहते हुए डाँट दिया कि मुझे अपने मालिक को धोखा देना अच्छा नहीं लगता!

ये ना, जब से लाॅकडाऊन शुरु हुआ है तब से हो रहा है, मैं पक्का नोटिस कर रही हूँ! अब तो मैं इनके साथ एक दिन नहीं रह सकती, टीरेन शुरू होते ही अमदावाद वापस चली जाउंगी, अपने माँ-बाप के पास!” -झुमरी ने पल्लू से नाक पोछते हुए कहा।

शहर के मशहूर पंडित श्री गंगाधर विद्याधर शास्त्री ने इस विषय में ज्ञान दिया है कि, “राजू की कुंडली में साढ़े-साती चल रही है, उसे अपना लोकेशन अति-शीघ्र बदलना होगा, नहीं तो झुमरी को अमदावाद जाने से वो नहीं रोक पाएगा!”



ऐसी अन्य ख़बरें