Thursday, 25th April, 2019

चलते चलते

अपनी पार्टी के लिए एक सीट और माँगने पहुँचे अखिलेश यादव, मायावती ने मारकर भगाया

17, Jan 2019 By Ritesh Sinha

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में सपा और बसपा का गठबंधन होने के बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव के किसी ने कान भर दिए हैं। किसी ने उनसे कह दिया कि ‘सीटों के बँटवारे में  तुम्हारे साथ धोखा हुआ है? तुम्हारे पास ‘MY’ समीकरण है फिर भी तुम्हे सिर्फ 38 सीट दे दी, मायावती जी तुम्हें चूना लगा गईं!”

Akhilesh-1
कम सीट पाने के बाद अखिलेश का हाल

बस, उस कान भरने वाले की बातों में आकर अखिलेश कल शाम को वापस मायावती के पास जा पहुँचे। वहाँ पहुँचते ही उन्होंने बहन जी से कहा- “अभी मैंने हिसाब लगाकर देखा तो पता चला कि मैं घाटे में हूँ! मुझे दस सीट और चाहिए, मेरा 48 कर दो!”

इतना सुनते ही मायावती जी भड़क गईं और बोली- “बड़ा आया 48 सीट माँगने वाला, शक्ल देखी है आईने में! कान खोलकर सुन लो, जो समझौता हुआ है उसी में कायम रहो वरना इतना भी नहीं मिलेगा, कांग्रेस वाले मेरे बँग्ले के बाहर खड़े हैं!”

बहन जी का गुस्सा देखकर टीपू के होश उड़ गए। उसने गिड़गिड़ाते हुए कहा- “चलिए दस सीट नहीं तो कम से कम एक सीट ही बढ़ा दीजिए, 39 कर दीजिए?”

“भाग यहाँ से!” -कहते हुए मायावती जी ने अपना सैंडल निकाल लिया। “कान खोलकर सुन लो, सुई की नोंक बराबर भी सीट ज्यादा नहीं दूँगी, लगता है टीपू तू मुझे जानता नहीं है! घर जाकर नेताजी को पूछना!”

इसके बाद तो टीपू एक मिनट नहीं रूका और उल्टे पाँव वापस आ गया। आते ही वो सीधे उस कान भरने वाले के पास जा पहुँचा और बोला- “बसपा से एक सीट एक्स्ट्रा लेने से ज्यादा आसान है शेर के मुँह से शिकार छीनना!”



ऐसी अन्य ख़बरें