Friday, 10th April, 2020

चलते चलते

बचे हुए विधायकों को अपने खेमे में लाने के लिए आकाश विजयवर्गीय बल्ला लेकर बेंगलुरु रवाना

13, Mar 2020 By किल बिल पांडे

भोपाल. ज्योतिरादित्य सिंधिया व अन्य कांग्रेसी विधायकों ने हर पल नए रंग दिखाते हुए, कमलनाथ की होली यादगार बना दी। एक कमल को कुचल कर दूसरा कमल खिलाने के लिए हो रही इस सियासी उठापठक ने, रिपोर्टरों के साथ-साथ राज्यपाल की भी छुट्टी रद्द करवा दी है।

akash-vijayvargiya-bat
बल्ला लेकर बैंगलुरू रवाना होते आकाश विजयवर्गीय

हमेशा की तरह सत्ता पाने के लिए, लग्ज़री बसों और रिसॉर्ट्स में विधायकों को ठूसकर जुगाड़ बिठाए जा रहे हैं। दोनों पार्टियों के विधायक जहाँ राज्य से बाहर भेजे जा रहे हैं वहीँ, दोनों ही पार्टियों के महासचिव दिल्ली से भोपाल आवन-जावन कर रहे हैं।

‘हिंदुस्तान के दिल’ में हो रही इस ‘ओपन हार्ट सर्जरी’ के लिए देर रात हुई विधायक दल की बैठक में,  कैलाश विजयवर्गीय के साथ-साथ उनके सुपुत्र आकाश विजयवर्गीय को भी बड़ी ज़िम्मेदारी दी गयी है। जहाँ कैलाश भोपाल में फील्डिंग सेट करेंगे, वहीं आकाश अपना विश्वप्रसिद्ध बल्ला लेकर बेंगलुरु रवाना होंगे।

लग्ज़री बस में चढ़ने के लिए लाइन में खड़े बीजेपी के एक विधायक ने नाम ना बताने की शर्त पर खुलासा करते हुए कहा कि, “वो क्या है कि कांग्रेस के विधायकों ने अभी नया-नया इस्तीफ़ा दिया है। हालाँकि उनके वापस कांग्रेस में जाने की संभावनाएं कम हैं लेकिन अगर पार्टी के प्रति इनका पुराना प्यार जाग गया तो लेने के देने पड़ सकते हैं! इस वजह से आलाकमान कोई चांस नहीं लेना चाहता, ‘मास्टरस्ट्रोक’ का सवाल है आखिर!”

विधायक जी ने आगे बताया कि, “लोगों को समझाने का आकाश भईया का ट्रैक रिकॉर्ड तो खासा अच्छा है। हाथ में बल्ला लेकर सामने वाले को समझाने की उनकी कला की तो पूरी पार्टी कायल है। इंदौर में उनका टैलेंट देखकर ही पार्टी ने उन्हें कोई बड़ी ज़िम्मेदारी देने का मन बना दिया था।”

“उनसे आलाकमान ने सीधे-सीधे कह दिया कि बहुत खेल लिया गली क्रिकेट, अब जाकर चिन्नास्वामी स्टेडियम में मैच जितवाकर आओ! विजयवर्गीय भाव! देखना, आकाश भईया पक्का जीत के आएँगे!” कहते हुए अपनी कन्फर्म सीट देख, विधायक जी चिपक कर बैठ गए।



ऐसी अन्य ख़बरें