Tuesday, 25th September, 2018

चलते चलते

"थाईलैंड की घटना हमारे देश में होती तो मज़ा आ जाता!" -न्यूज़ एंकरों ने एक सुर में कहा

08, Jul 2018 By Ritesh Sinha

बैंकाक/नयी दिल्ली. पिछले दो सप्ताह से थाईलैंड की एक गुफा में, वहाँ के बारह जूनियर फुटबॉल खिलाड़ी, अपने कोच के साथ फँस गए हैं, जिन्हें बाहर निकालने की कोशिश की जा रही है। इस बीच, इंडिया के न्यूज़ चैनल एंकर्स ने एक सुर में कहा है कि अगर यह घटना इंडिया में होती तो चीखने-चिल्लाने में मज़ा आ जाता। थाईलैंड में होने की वजह से माहौल बनाने में उन्हें असुविधा हो रही है। साथ ही उन्हें इस बात का भी अफ़सोस है कि पूरे एक महीने का ‘मसाला’ उनके हाथों से निकल गया है।

sridevi-bath-tub-news-channel
कुछ ऐसा ही करते न्यूज़ चैनल्स

एलियन टीवी के मालिक चपत शर्मा ने बताया कि “देखिए! मुझे तो लगता है कि उन बच्चों को किसी एलियन ने कैद करके रख लिया है, वरना बच्चे इतनी दूर गुफा में कैसे जा सकते हैं? वहाँ की मीडिया को इस बात की पूरी छानबीन करनी चाहिए! अगर मैं वहाँ होता, तो बच्चों को बाहर निकालने के लिए अपने रिपोर्टर को ही अंदर भेज देता!” -कहने के बाद वो क्रिकेट क्लब की किसी मीटिंग में चले गए।

वहीँ, ‘कल तक’ चैनल के तेज-तर्रार एंकर संजना कश्यप ने बताया कि “अगर ये हमारे देश में होता ना, तो हम अपने स्टूडियो में ही एक छोटा सी गुफा बना लेते, ताकि दर्शकों को अच्छे से समझ में आ जाए! फिर मैं उसमे घुसकर पूरा डेमो दे देती कि बच्चे कहाँ फँसे हुए हैं!” हाँ, ये होती है कमिटमेंट!”

“इसके अलावा हमारे चैनल पर दस मेहमान दिन भर पड़े रहते, दिन भर डिबेट चलती रहती! खाना-पीना छोड़कर पूरा देश हम सर पर उठा लेते! उसके बाद छपरा के किसी छुटभैये नेता का बयान दिखाकर हम इसमें हिन्दू-मुस्लिम एंगल भी ढूंढ लेते, फिर और मज़ा आ जाता! काश! ये हमारे देश में होता!” -उन्होंने मुक्का मारते हुए कहा।

वहीँ, रिटबलिक टीवी के एंकर औरकब गोस्वामी का कहना है कि “ये जो लोग गुफा के अंदर जा रहे हैं ना, उन्हें बचाने के लिए, हम सबसे पहले उन्ही का इंटरव्यू लाते! भले उन्हें जाने में लेट क्यों ना हो जाती, फिर भी हम एक ‘बाइट’ लेकर ही आते! हमारा ऐसा ही चलता है! लेकिन ये हो ना सका!”



ऐसी अन्य ख़बरें