चलते चलते

अर्नब से 12 घंटे पूछताछ करने वाले पुलिसवालों का होगा सम्मान, बरसाए जायेंगे पुलिस थाने पर फूल

05, May 2020 By किल बिल पांडे

मुंबई. रविवार को देश में कोविड-19 जैसे अदृश्य दुश्मन से अग्रिम पंक्ति में खड़े होकर लड़ने वाले योद्धाओं को देश की सशस्त्र बल द्वारा अनोखे तरीके से सम्मान दिया गया। जहाँ एक ओर वायुसेना ने अस्पतालों के ऊपर फूल बरसाए, वहीं नौसेना ने अपने जहाजों को रोशन करके कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जीत दर्ज करने का संदेश दिया।

petals
ऐसा होना चाहिए!

इसी सिलसिले में अब उड़ती हुई खबर मिली है कि, इसी तर्ज़ पर मुंबई पुलिस के उन पुलिसकर्मियों के सम्मान की मांग जोर पकड़ रही है, जिन्होंने हाल ही में अर्नब बाबू को अपने थाने बुलाकर लगातार 12 घंटे पूछताछ करने का विश्व रिकॉर्ड बनाया था।

अपनी आँख के इन्ही तारों के सम्मान के लिए जनता ने एक ऑनलाइन पीटिशन की शुरुआत की है, जिसमें उस ऐतिहासिक ‘एन.एम.जोशी मार्ग’ पुलिस थाने पर फूल बरसाए जायेंगे, जहाँ अर्नब से लगातार 12 घंटे पूछताछ करने की घटना को अंजाम दिया गया था। इस याचिका की सफलता का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि याचिका के ऑनलाइन होते ही लाखों लोगों ने इसका समर्थन किया है।

इस अति-विचित्र और रोचक पीटिशन की शुरुआत करने वाले छपरा के युवक चंद्रकांत ने फ़ेकिंग न्यूज़ को बताया कि, “भईया, क्या बताएँ? अब जो आदमी दर्जन भर पैनलिस्टों को खिड़की में घुसा कर, उनको बोलने का मौका दिए बिना उन्हें घंटों लेक्चर दे सकता है, उससे कोई कॉन्स्टेबल लगातार बारह घंटे पूछताछ कर ले तो बहादुरी की ही बात होगी ना!

अगर ‘कोविड’ के योद्धाओं का सम्मान हो रहा है, तो इनका भी तो तो थोड़ा सा हक़ बनता है, हमें तो ताज्जुब है कि अब तक यह आईडिया किसी को आया  क्यों नहीं! खैर, हमारी  पीटिशन को अच्छा-खासा रेस्पोंस मिल रहा है, लोगों ने इस नेक कार्य के लिए पुलिस केयर्स का हैशटैग चलाकर रुपये दान करने भी शुरुआत कर दी है, फूल बरसाने के लिए फूलों और हेलीकाप्टर कंपनी की तलाश शुरू हो चुकी है!” -कहते हुए चंद्रकांत ऑफलाइन हो गया।

सूत्रों की मानें तो इस नेक काम के लिए हेलीकाप्टर का जुगाड़ अगले दो दिनों में हो जाएगा। साथ ही इस इवेंट के आयोजकों ने अपने फण्ड की जाँच कैग (CAG) से करवाने का भी ऐलान कर दिया है।



ऐसी अन्य ख़बरें