Friday, 22nd November, 2019

चलते चलते

'1.76 लाख करोड़' सुनते ही बोले योगी- "इतने में तो 15-20 स्टेच्यू और बन जाएँगे!"

27, Aug 2019 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. रिज़र्व बैंक अपने सरप्लस फंड में से केंद्र सरकार को मंदी से निपटने के लिए 1.76 लाख करोड़ रुपये देने को तैयार हो गया है। यह सुनते ही यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ख़ुशी के मारे उछल पड़े।

Yogi-RBI
“इतने रुपयों में तो बहुत सारे बन जाएँगे!”

योगीजी ने सोफ़े से उछलते हुए कहा, “इतने में तो हमारे 15-20 स्टेच्यू और बन जाएँगे और RBI से पहली किस्त मिलते ही सबसे पहले बनाएँगे भगवान श्रीराम का स्टेच्यू…सबसे ऊँचा! उसके बाद शिवाजी, महाराणा प्रताप, झाँसी की रानी, दीन दयाल उपाध्याय, सावरकर…मतलब…सबके बन जाएँगे!”

“और अगर फिर भी थोड़े-बहुत पैसे बच गये तो उनमें गंगा की चार-पाँच महाआरती हो जाएँगी!” -योगीजी ख़ुशी से हाथ मसलते हुए बोले।

तभी एक एंटी-नेशनल टाइप पत्रकार बोल पड़ा, “सीएम साब, अगर फिर भी कुछ पैसे बच गये तो हॉस्पिटल के लिए दो-चार गैस सिलेंडर भी ख़रीदेंगे क्या?” यह सुनते ही योगीजी कुपित हो गये और उस पत्रकार पर रासुका (राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानून) लगाकर उसे जेल भिजवा दिया।

भिजवाने के बाद वो बात को कन्टीन्यू करते हुए बोले, “ऐसे अधर्मियों की वजह से ही ‘रामराज्य’ बनने में देरी हो रही है, नहीं तो वो अब तक तो कभी का बन चुका होता!” यह कहकर वो गायों को गुड़ खिलाने गौशाला रवाना हो गये।



ऐसी अन्य ख़बरें