Wednesday, 19th December, 2018

चलते चलते

'विकास' को लावारिस छोड़ उसके पापा फ़रार, पूरे देश में तलाश जारी

03, Dec 2018 By बगुला भगत

लखनऊ. यूपी के पं. दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन पर एक लावारिस बच्चा मिला है, जो अपना नाम ‘विकास’ और पिता का नाम ‘नरेंद्र’ बता रहा है। इसके अलावा उसे और कुछ भी याद नहीं है।

Vikas-Lawaris
रेलवे स्टेशन पर लावारिस ‘विकास’

पुलिस की पूछताछ में ‘विकास’ ने बताया कि उसके पापा उसे सोता हुआ छोड़कर चले गये क्योंकि पापा को वो बोझ लगने लगा था। उसकी पढ़ाई-लिखाई और रहन-सहन पर काफ़ी ज़्यादा खर्चा हो रहा था, जबकि पापा को दूसरी चीज़ों पर पैसा उड़ाने की लत लग चुकी थी, इसलिए वो काफ़ी लंबे समय से उससे पिंड छुड़ाने की ताक में थे।

‘विकास’ के पापा अब से पहले भी कई बार उसे छोड़कर जाने की कोशिश कर चुके थे- कभी किसी मंदिर के सामने तो कभी किसी स्टेच्यू के नीचे! एक बार तो वो उसे कब्रिस्तान और श्मशान में ही छोड़कर चल दिये थे लेकिन हर बार वो दौड़कर उनके पीछे लग जाता था।

पर इस बार वो उसे रेलवे स्टेशन पर छोड़ने में क़ामयाब हो गये। फिलहाल पुलिस पूरे इलाक़े में ‘विकास के पापा की तलाश’ वाले पोस्टर चिपका रही है लेकिन उसके मिलने के चांस बेहद कम हैं क्योंकि जिस स्टेशन पर वो ‘विकास’ को सोता छोड़कर गये थे, उस स्टेशन का नाम ही बदल चुका है।

एफ़आईआर में दर्ज़ है कि विकास ‘मुग़ल सराय जंक्शन’ पर लावारिस मिला लेकिन अब इस स्टेशन का नाम बदलकर ‘पं दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन’ हो चुका है। और चूंकि हमारे देश की पुलिस काग़ज़ों के हिसाब से चलती है, इसलिए अब ना विकास के पापा मिलने वाले हैं और ना वो स्टेशन!



ऐसी अन्य ख़बरें