Friday, 18th January, 2019

चलते चलते

उत्तरप्रदेश: गाय की पूँछ पर भिनभिना रही मक्खियों को बेकाबू भीड़ ने पटक-पटककर मारा

09, Dec 2018 By Fake Bank Officer

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में गौरक्षा के नाम पर भीड़ की हिंसा का एक और मामला सामने आया है। शहर के एक तनावग्रस्त इलाके में कल एक गाय की पूँछ पर भिनभिना रही मख्खियों के कारण तनाव और बढ़ गया और अचानक ही आयी एक बेकाबू भीड़ के हाथों मक्खियों को जान गंवानी पड़ी। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार दोपहर के समय एक माँ समान गाय कचरे के एक ढेर में अपनी खुराक ढूंढ रही थी, तभी कुछ आवारा मक्खियों ने उनपर हल्ला बोल दिया।

flies
मृत पड़ी मक्खियाँ

मक्खियों की यह भिनभिनाहट सुन अचानक ही जाने कहाँ से हाथ मे कट्टे और पत्थर लहराते हुए बजरंग दल के कार्यकर्ता आ पहुँचे। कार्यकर्ताओं का यह आक्रामक तेवर देखकर मक्खियाँ वहाँ से भागने  प्रयास करने लगी, लेकिन भीड़ पर तो खून सवार था। उन्होंने एक एक मक्खी को दौड़ा-दौड़ाकर मारा।

घटना की जानकारी मिलते ही उत्तर प्रदेश पुलिस ने तत्काल कार्यवाही करते हुए मक्खियों के खिलाफ FIR दर्ज कर दी है और नौ-दस धाराएं एक साथ लगा दी हैं। साथ ही गौमाता को सही सलामत उनके मालिक के पास पहुँचाने के लिए पुलिस की एक टुकड़ी भी भेज दी है।

हालाँकि खबर लिखे जाने तक गाय के मालिक का पता नही चल पाया था। वही मक्खियों के परिजनों ने जब पुलिस थाने का घेराव कर न्याय की मांग की तो उन्हें भी कीड़े-मकोड़ो की तरह मसल दिया गया। इस घटना की रिपोर्ट ‘पेटा’ वालों को भी भेज दी गई है, उन्होंने कहा है कि जैसे ही हमें चंदा माँगने से फुर्सत मिलेगी हम आ जाएँगे।

उधर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस पूरे घटनाक्रम पर नज़र बनाए हुए हैं। उन्होंने एक कमेटी गठित कर जाँच बिठा दी है कि क्या मक्खियाँ खुद ही गाय को छेड़ने आयी थी या उन्हें किसी साजिश के तहत भेजा गया था। जब विपक्षी दलों ने सरकार पर मक्खियों के प्रति संवेदनहीनता का आरोप लगाया तो योगी जी ने झट से मक्खियों के परिजनों के लिए एक-एक हज़ार रुपये के मुआवजे की घोषणा कर दी।



ऐसी अन्य ख़बरें