Friday, 22nd November, 2019

चलते चलते

लड़के वालों के यहाँ नही था टॉयलेट, फिर भी हो रही थी शादी, बीजेपी कार्यकर्ताओं ने की तोड़फोड़

27, Apr 2018 By Ritesh Sinha

अलीगढ़. शहर के जोशीले बीजेपी कार्यकर्ता भीम सिंह जी दोपहर में अनानास का जूस पीने के बाद चारपाई पर आराम फरमा रहे थे कि तभी उनका फोन बज उठा। जैसे ही उन्होंने फोन उठाया सामने वाले की आवाज सुनकर उनका चेहरा चौड़ा हो गया। “अच्छा.. उसकी इतनी हिम्मत.. चलो मैं आता हूँ!” -कहते हुए भीम सिंह जी ने फोन रख दिया और फटफटी पर सवार होकर घर से निकल पड़े। साठ की स्पीड पर गाड़ी दौड़ाते हुए वो सीधे कुंजलाल के घर पहुंचे, उस टाइम उनके घर शादी हो रही थी।

toilet
समझौते के बाद दुल्हे को गिफ्ट में मिला टॉयलेट सीट

सबसे पहले उन्होंने कुंजलाल को उठाकर एक कोने में रख दिया और पंडाल में तोड़फोड़ करने लगे। टैंट वाले को खुंटी पर टांग दिया और हलवाई वाले को बड़ी वाली कढ़ाई के नीचे छुपा दिया। तभी कुंजलाल ने हाथ जोड़ते हुए कहा- “अरे भाई! तोड़फोड़ क्यों कर रहे हो? यहाँ शादी हो रही है!” कुंजू की यह बात सुनकर भीम सिंह ने कहा- “ये शादी नहीं हो सकती! तेरी बेटी जिसके घर जा रही है, सुन रहा हूँ कि उसके घर  टॉयलेट नहीं है! उसने शादी के लिए इनकार क्यों नहीं किया?” -कहते हुए उन्होंने बैंड वालों का बैंड बजा दिया।”

“अगर वो शादी के लिए इनकार कर दे तो उसकी फोटू अखबारों में आएगी! मैं गारंटी लेता हूँ! मीडिया वाले ‘इंटरभ्यू’ भी लेंगे! लेकिन उसे तो फेमस होने का शौक ही नहीं है ना! ये तो सरासर मोदीजी का अपमान है!” -कहते हुए उन्होंने अपना देशी कट्टा निकाला और हवा में तीन राउंड फ़ायर कर दिया।

बाद में दुल्हन ‘लताबाई’ को भी अपनी गलती का एहसास हुआ और उसने फोन करके लड़के को अपना फैसला सुना दिया। लड़का तुरंत ही बेहोश हो गया। फ़ेकिंग न्यूज़ से बात करते हुए भीम सिंह ने बताया कि “इन लोगों को शादी की बात चलाने से पहले पूछ लेना चाहिए था ना कि घर में टॉयलेट है कि नहीं? फालतू में मुझे ‘शस्त्र प्रयोग’ करना पड़ा!” उधर, सूचना मिली है कि लड़के वाले समझौता करने को तैयार हो गए हैं।



ऐसी अन्य ख़बरें