Wednesday, 21st November, 2018

चलते चलते

S-400 मिसाइल सिस्टम के बदले पुतिन ने मांग लिया अर्नब गोस्वामी, मोदी जी ने किया इनकार

07, Oct 2018 By Fake Bank Officer

नयी दिल्ली. भारत-रूस के मध्य हुई S-400 मिसाइल डील, जिसके दम पर हम चीन और पाकिस्तान को सबक सिखाने की योजना बना रहे हैं, वह अब खतरे में पड़ गई है। रूस के राष्ट्रपति ‘पुतिन’ ने इन मिसाइल के बदले भारत सरकार से रिपब्लिक टीवी चलाने वाले अर्नब गोस्वामी को सौंपने की मांग कर दी है। अब केंद्र सरकार सोच में पड़ गयी है।

पुतिन putin-modi
अर्नब देने से मना करते मोदी जी

फ़ेकिंग न्यूज के खुफिया सूत्रों के अनुसार चार तारीकह तक सब-कुछ ठीक चल रहा था, 40 हज़ार करोड़ रुपये में S-400 मिसाइल का सौदा तय हो गया था, लेकिन पाँच तारीख को वापस जाते समय पुतिन अपनी जुबान से पीछे हट गए।

माना जा रहा है कि उन्होंने कुछ समय के लिए रिपब्लिक टीवी देख लिया था, जिस पर हमेशा की तरह अर्नब मेहमानों को बुलाकर अपने आप से ही डिबेट कर रहे थे। अर्नब की यह अदा पुतिन को भा गयी और उन्होंने तुरंत ही मोदी जी से कहा- “आप 40 हज़ार करोड़ रहने दीजिए, बस यह बंदा रूस भेज दीजिये!”

पुतिन की यह बात सुनकर मोदी जी के पैरों तले ज़मीन खिसक गई। उन्होंने घबराते हुए 80 हज़ार करोड़ का ऑफर दे दिया, लेकिन पुतिन कहाँ मानने वाले थे। उन्होंने तो साफ-साफ़ कह दिया कि यदि मिसाइल चाहिए तो अर्नब हमको देना ही पड़ेगा! इस तरह यह डील अधर में लटक गई।

इस मामले पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने नाम-पता न छापने की शर्त पर बताया कि, “अगर पुतिन ने किसी और रिपोर्टर की मांग की होती तो मोदीजी हँसते-हँसते दे देते लेकिन अर्नब उन्हें जान से भी प्यारा है, वो तो पूरा DD-न्यूज़ पुतिन को देने के लिए तैयार हैं लेकिन अगला माने तब!”

उधर मिसाइल डील में आई इस अड़चन का अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने स्वागत किया है। उन्होंने ट्वीट करके भारत को नसीहत दी कि छोटी सोच वालों (पुतिन) से बिज़नेस करने में यही समस्या होती है।

जब हमने अर्नब गोस्वामी से इस विषय पर राय देने के लिए कहा तो उन्होंने शायराना अंदाज़ में बस इतना ही कहा- “तुझे इस बाजार का दस्तूर मैं समझा नही सकता, बिक गया जो वो खरीददार हो नही सकता!”



ऐसी अन्य ख़बरें