Tuesday, 31st March, 2020

चलते चलते

फ्लो-फ्लो में कोटा में हुई बच्चियों की मौत पर विरोध जताने पहुँच गयीं प्रियंका गाँधी, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बड़ी मुश्किल से खदेड़ा

02, Jan 2020 By Ritesh Sinha

कोटा. सूचना मिली है कि कांग्रेस महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा, कल शाम को राजस्थान सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने ‘कोटा’ पहुँच गयीं थीं। दरअसल, कोटा में छोटे बच्चों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है, पिछले 48 घंटों में ही नौ और बच्चों की मौत हो चुकी है, इसी के साथ मरने वाले बच्चों की संख्या अब 100 को पार कर गयी है।

priyanka
स्कूटी में बैठकर ‘कोटा’ जातीं प्रियंका जी

जैसे ही यह खबर प्रियंका के कानों तक पहुँची, उनसे रहा नहीं गया, उन्होंने यूपी में चल रहे आंदोलन से अल्पविराम लेते हुए कोटा जाने का फैसला कर लिया।

जैसे ही वो कोटा के जेके लोन अस्पताल पहुँची, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नारा लगाना शुरू कर दिया। राजस्थान सरकार के खिलाफ नहीं.. बल्कि प्रियंका गाँधी के खिलाफ!

“प्रियंका गाँधी वापस जाओ! अपना व्यापार यूपी में फैलाओ!” -के नारों से आसमान गूँज उठा। अपने ही कार्यकर्ताओं की बेरुखी देखकर प्रियंका ने अपने सलाहकार से पूछा कि, ‘ये लोग मेरे खिलाफ नारेबाजी क्यों कर रहे हैं?’ तो उनके पीए ने उन्हें बताया कि, “ये किस लाइन में आ गयीं आप! यहाँ तो अपनी ही सरकार है, गहलोत जी मुख्यमंत्री हैं!”

इतना सुनते ही प्रियंका के पैरों तले जमीन खिसक गयी। “..तो तुम लोगों ने मुझे पहले क्यों नहीं बताया!’ -उन्होंने झुंझलाते हुए कहा और सारा तामझाम समेटकर वापस लखनऊ आ गयीं।

विशेषज्ञों का मानना है कि ये सब फ्लो-फ्लो में हुआ है, प्रियंका जी आजकल विरोध प्रदर्शन करने के मूड में ही रहती हैं, इसी भागमभाग में उन्हें पता ही नहीं चला कि ‘कोटा’ राजस्थान में पड़ता है और वहाँ कांग्रेस पार्टी की सरकार भी है।

अपनी ऊर्जा का समुचित प्प्रयोग करते हुए प्रियंका गाँधी के खिलाफ नारा लगाने वाले एक कार्यकर्ता ने बताया कि, “प्रियंका जी को ऐसा नहीं करना चाहिए! कहीं जाने से पहले चेक कर लेना चाहिए कि वहाँ किसकी सरकार है, वरना उन्हें ये सब याद दिलाने के लिए हमें बड़ी मेहनत करनी पड़ती है!”



ऐसी अन्य ख़बरें