Thursday, 2nd April, 2020

चलते चलते

World Bicycle Day के अगले दिन भी फ़ॉरच्यूनर की जगह साइकिल लेकर पहुँच गया ड्राइवर! खट्टर ने नौकरी से निकाला

06, Jun 2019 By बगुला भगत

रोहतक. हमारे देश में करोड़ों नासमझ लोग Formality का मतलब भी नहीं समझते! वे समझते हैं कि अगर हमारे नेताजी ने पब्लिक को चेतन (भगत) बनाने के लिए या Formality के लिए कोई काम कर दिया तो वे रोज़ उसी काम को करते होंगे। इसी नासमझी का शिकार हो गया हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का ड्राइवर, जिसकी वजह से उसे अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ गया!

सीएम साब साइकिल पर
सीएम साब की साइकिल यात्रा

हुआ यूँ कि सीएम साब ने ‘World Bicycle Day’ के दिन 5 मिनट के लिए साइकिल चलाई थी, जिसके बाद उन्होंने आधे घंटे तक साइकिल चलाने की ख़ूबियाँ गिनाई थीं। जिसे उनका ड्राइवर भी सुन रहा था, जो साइकिल के पीछे-पीछे उनकी फ़ॉरच्यूनर लेकर चल रहा था।

बस इसी चक्कर में ड्राइवर को ये मिसअंडरस्टैंडिंग हो गयी कि सीएम साब तो अब रोज़ साइकिल से ही चलेंगे। इसलिए वो चेतन अगली सुबह भी फ़ॉरच्यूनर की जगह साइकिल लेकर पहुँच गया!

साइकिल देखते ही सीएम साब का माथा घूम गया। उन्होंने उसे डाँटते हुए कहा, “तुम साइकिल से चलोगे तो गाड़ी कौन चलाएगा?” तो ड्राइवर सकुचाते हुए बोला- “ये तो मैं आपके लिए लाया हूँ सर, आप कल बोल रहे थे ना कि हमें रोज़ साइकिल पर…”

उसने सेन्टेन्स पूरा भी नहीं किया था कि सीएम साब ने उसे वहीं के वहीं नौकरी से निकाल दिया और बड़बड़ाते हुए ख़ुद फ़ॉरच्यूनर चलाकर ऑफ़िस पहुँचे।

इस बीच, देश भर में 15 हज़ार चकाचक नयी साइकिलें, जिन्हें नेता लोगों ने सिर्फ़ एक दिन यूज़ किया है, हाफ़ रेट पर बिक्री के लिए उपलब्ध हैं। जिस किसी को भी चाहिए, वो नीचे कमेन्ट बॉक्स में ‘साइकिल अगरबत्ती’ लिख दे।



ऐसी अन्य ख़बरें