चलते चलते

अब लॉकडाउन में भी खरीदे जा सकेंगे 'विधायक', सरकार ने आवश्यक वस्तुओं की लिस्ट में किया शामिल

03, Apr 2020 By Fake Bank Officer

नयी दिल्ली. सरकार ने देश के राजनैतिक दलों को बड़ी राहत देते हुए विधायकों को भी आवश्यक वस्तुओं की सूची में डाल दिया है। अब लॉकडाउन के दौरान भी MLA’s की खरीद-बिक्री बेधड़क की जा सकेगी। भाजपा और देश भर के निर्दलीय विधायकों ने इस कदम का स्वागत किया है तो वहीं कांग्रेस और शिव सेना ने इसे गैर जरूरी बताया है।

MLAs
आवश्यक वस्तुओं की भीड़

हाल ही में हुई कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। गृह मंत्री अमित शाह ने बताया कि “कोरोना के चलते आवश्यक सेवाएं रोकीं नही जा सकती हैं, जो विधायक आज बिकने को तैयार बैठे हैं उन्हें कब तक रोका जा सकता है भला, ज्यादा दिन तक विधायक नही बिके तो उनकी कालाबाज़ारी शुरू हो जाएगी फिर उनके दाम आसमान छूने लगेंगे!”

सरकार के इस कदम का स्वागत करते हुए सपा, बसपा और लोजपा जैसी पार्टियों ने घोषणा की है कि कोरोना के चलते जो भी पार्टियां विधायक नही खरीद पा रही हैं, वो उनके घर पर अपने विधायक प्राइस-टैग लगाकर भेजेंगे।

कई निर्दलीय विधायकों ने भी घर-घर जाकर बिकने की इच्छा जताई है। विधायकों ने यह भी कहा कि बुरे हालात को देखते हुए पार्टियाँ चाहें तो डील की रकम सीधे उनके खाते में डाल सकते हैं।

इस बीच महाराष्ट्र में कांग्रेस, शिव सेना और राकांपा ने अपने-अपने MLA’s को एकांतवास में भेज दिया है। विधायकों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि कोरोना और अमित शाह से सावधान रहें। इन दलों ने कोर्ट में अर्जी भी लगाई है कि उनके विधायकों को सुरक्षा प्रदान की जाए।



ऐसी अन्य ख़बरें