चलते चलते

सुबह कहा "झोला उठाकर निकल रहा हूँ!", शाम को बोले- "मैं तो सब्ज़ी लाने को कह रहा था!"

04, Mar 2020 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री मोदी के बयानों पर एक के बाद एक कन्फ़्यूजन होता जा रहा है। परसों उनके सोशल मीडिया छोड़ने वाले ट्वीट की वजह से कन्फ़्यूजन हुआ था तो आज उनके झोले वाले ट्वीट को लेकर उससे भी बड़ा कन्फ़्यूजन हो गया!

Modi-Jhola
“बुद्धू बनाया बड़ा मज़ा आया!”

दरअसल, मोदीजी ने आज सुबह ट्वीट किया कि “झोला उठाकर निकल रहा हूँ!” उनके इतना कहते ही देशभर में मानो भूकंप आ गया! कुछ लोग रोने-पीटने लगे तो कुछ नाच-नाचकर जश्न मनाने लगे।

मीडिया और सोशल मीडिया वाले भी सारा काम-धंधा छोड़कर यही बहस करने लगे कि ‘क्या मोदीजी सचमुच झोला उठाकर निकल लेंगे और निकलेंगे तो जाएँगे कहाँ?’

लेकिन ना तो रोने वालों का रोना-धोना ज़्यादा देर तक चल पाया और ना ही जश्न मनाने वालों का नाचना-गाना, जब मोदीजी ने कुछ घंटे बाद ही एक और ट्वीट किया और कहा कि “मैं तो सब्ज़ी लाने की बात कर रहा था!” और फिर झोले में रखी सब्ज़ी का फोटो भी शेयर कर दिया और ‘खी…खी’ वाली इमोजी बनाते हुए कहा- “बुद्धू बनाया, बड़ा मज़ा आया!”

इसके बाद तो लोग मोदीजी के ‘सेंस ऑफ़ ह्यूमर’ के क़ायल हो गये! समर्थकों के साथ-साथ विरोधी भी ये मानने पर मज़बूर हो गये हैं कि मोदीजी से बढ़िया मज़ाक इस दुनिया में कोई नहीं कर सकता!



ऐसी अन्य ख़बरें