चलते चलते

छात्रों को गैजेट्स से दूर रहने की सलाह देकर मोदीजी ने ली हर एंगल से 'सेल्फ़ी'

22, Jan 2020 By Fake Bank Officer

नयी दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम के दौरान छात्र-छात्राओं को थोड़ा कंफ्यूज कर दिया है। परीक्षा में सफलता के टिप्स बताते हुए उन्होंने सलाह दी थी कि ‘दिन में कम से कम एक घंटे के लिए टेक्नोलॉजी और गैजेट्स से दूर रहना चाहिए!’

modi-selfie
सेल्फ़ी लेते मोदीजी

ये टिप्स देने के बाद मोदीजी ने मुस्कुराते हुए कैमरे की ओर देखा और अलग-अलग एंगल से एक दर्जन ‘सेल्फी’ ले डाले। मोदीजी के इन विरोधाभासी संदेशों से, जो छात्र पहले अच्छे खासे थे वे भी अब कंफ्यूज हो गए हैं।

टेक्नोलॉजी पर पूछे गए एक सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि, “इंटरनेट और सोशल मीडिया के बाहर भी एक दुनिया है जिसे हमें भूलना नहीं चाहिए! आप सभी बच्चों को मैं यही सलाह दूंगा कि दिन में कम से कम एक घंटा ‘गैजेट्स’ को दूर रख दें और यही समय माता-पिता के साथ बिताएँ!’

जब आप माता-पिता के साथ समय बिताएँ तो कैमरे से दूर रहें, मैं भी ऐसा ही करता हूँ पर ना जाने कहाँ से ये मीडिया वाले फोटो खींचने चले आते हैं और मैं कुछ नहीं कर पाता!” -यह सुनकर बचे-चुके छात्र भी कंफ्यूज हो गये।

इसके साथ ही मोदीजी ने छात्रों को यह भी समझाया कि वो ‘रोबोट’ ना बनें, इंसान बनें! क्योंकि रोबोट तो बाद में बन ही जायेंगे। रोबोट बनने के लिए समय की कोई कमी नहीं है।

सफलता और असफलता पर रोशनी डालते हुए मोदीजी ऋषभ पंत को अपने भाषण में खींच लाये और कह दिया कि, “विफलता से डरने की जरूरत नही है बल्कि ऋषभ पंत से सीख लेने की आवश्यकता है, लगातार खराब प्रदर्शन के बाद भी ये बंदा, टीम इंडिया में टिका हुआ है, इसी तरह आप भी एक-दो परीक्षाओं में फैल भी हो गये तो घबराना कैसा?”

अंत मे मोदीजी ने बच्चों से भावुक होते हुए कहा कि “आप जितना चाहे उतना पढ़ो, खूब तरक्की करो, लेकिन यदि JNU में एडमिशन लिया तो दिल्ली पुलिस और ABVP से बचाने के लिए मैं नही आऊंगा!”



ऐसी अन्य ख़बरें