Friday, 19th October, 2018

चलते चलते

रविशंकर प्रसाद के ग़ुस्से से बिजली बनाएगी सरकार, हर घर में जलेगा अब बल्ब

10, Aug 2018 By बगुला भगत

नयी दिल्ली. अब वो दिन दूर नहीं, जब देश के हर घर में बल्ब जलेगा और प्रधानमंत्री मोदी का घर-घर बिजली पहुँचाने का सपना साकार हो जायेगा। ऊर्जा मंत्रालय ने जानकारी दी है कि सरकार, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के ग़ुस्से को बिजली में बदलने की योजना बना रही है।

ravi shankar prasad1
बिजली का झटका दिखाते रविशंकर प्रसाद जी

रविशंकर जी की बॉडी में बिजली है, इसका पता तब चला जब कल रात पटना में एक युवक ने उनकी बॉडी पर कटिया डालकर अपने घर का बल्ब जला दिया। इसके बाद वैज्ञानिकों ने जाँच-पड़ताल की तो पता चला कि रविशंकर जी के शरीर में कई मेगावाट बिजली पैदा करने लायक ग़ुस्से का भंडार मौजूद है।

“रविशंकर जी के दोनों नथुनों को आप पावर प्लांट की चिमनी समझ सकते हैं, जिनसे हर समय 100 मेगावॉट की तरंगें निकल रही होती हैं। जब भी वो प्रेस कॉन्फ्रेंस करने बैठते हैं तो उनके आँख-नाक-कान और मुँह से चिंगारियाँ फूट रही होती हैं। उस समय अगर कांग्रेस का कोई नेता ग़लती से भी उनके सामने आ जाये तो वो उसे कच्चा ही चबा जायें!” -वैज्ञानिक रोशनलाल तारवाला ने बताया।

“वकील सबसे ज़्यादा ग़ुस्से वाले होते हैं और रविशंकर जी तो वकील के साथ-साथ नेता भी हैं। और आप तो जानते ही हैं कि इन दोनों का कॉम्बिनेशन कितना घातक होता है! रोज़-रोज़ ‘आधार’ पर उठ रहे सवालों ने उनकी बॉडी में और भी आग धधका दी है।”

“हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती थी कि रविशंकर जी के शरीर में बह रही ऊर्जा का सही इस्तेमाल कैसे किया जाये! इसके लिए हम अमेरिका से ये एक ख़ास यंत्र लाये हैं, जो बॉडी की ऊर्जा को बिजली में बदल सकता है। हमें अब और देर नहीं करनी चाहिए, हम ऑलरेडी बहुत सारी बिजली बर्बाद कर चुके हैं।” -तारवाला ने यंत्र का डेमो दिखाते हुए कहा।



ऐसी अन्य ख़बरें