Friday, 22nd November, 2019

चलते चलते

रेलवे ट्रैक पर हगने वालों को मोदीजी की डेडलाइन- "जितना करना है 2 अक्टूबर तक कर लो, फिर मुझे 'खुले में शौच-मुक्त भारत' घोषित करना है!"

24, Sep 2019 By बगुला भगत

मुंबई/ह्यूस्टन. प्रधानमंत्री मोदी 2 अक्टूबर को महात्मा गाँधी की 150वीं जयंती पर पूरे गाजे-बाजे के साथ भारत को खुले में शौच-मुक्त घोषित करने वाले हैं। उससे पहले उन्होंने मुंबई में रेलवे ट्रैक्स पर फ़ारिग होने वालों को एक हफ़्ते की डेडलाइन दी है।

Modi-Open-Defecation-Railway-Track
लास्ट वॉर्निंग देते मोदीजी

अमेरिका की धरती से देशवासियों को ये डेडलाइन देते हुए मोदीजी ने कहा, “बहनो-भाईयो! जिसको जितना खुले में करना है, दो अक्टूबर से पहले कर ले, उसके बाद मौक़ा नहीं मिलेगा क्योंकि 2 अक्टूबर को मैं भारत को ‘खुले में शौच-मुक्त’ घोषित कर दूँगा!”

यह सुनकर उनकी बगल में बैठे डोनाल्ड ट्रंप बोल उठे, “बट मिस्टर मोडी! इंडिया में तो लोग अभी भी जगह-जगह खुले में करते दिखते हैं, फिर आपको शौच-मुक्त घोषित करने की इतनी जल्दी क्यों है?”

इस पर मोदीजी हँसते हुए बोले, “मित्र! ‘मुक्त’ घोषित करने में मुझे बहुत मज़ा आता है। जैसे ‘पॉलीथीन-मुक्त’, ‘तंबाकू-मुक्त’, ‘कांग्रेस-मुक्त! इसका मतलब ये नहीं कि उसके बाद वो चीज वहाँ होती ही ना हो।”

“फ़ॉर एग्ज़ाम्पल, मेरा गुजरात सालों से ‘शराब-मुक्त’ है लेकिन दारू वहाँ हर जगह मिलती है। ये मोटाभाई का ‘मुक्त स्टाइल’ है!” – उन्होंने ट्रंप के हाथ पर ज़ोर से हाथ मारते हुए कहा।

आपको बता दें कि इस मौक़े पर मोदीजी देश-विदेश की बड़ी-बड़ी हस्तियों के साथ संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुतारेस को भी न्योता भेज रहे हैं। इसलिए सरकार जगह-जगह ‘ओपन डिफेकेशन टास्क फ़ोर्स’ (ODTF) तैनात कर रही है ताकि गुतारेस को कहीं कोई खुले में हगता ना दिख जाये।



ऐसी अन्य ख़बरें